खूंटी के बसंत मुंडा हत्याकांड का उद्भेदन, दो गिरफ्तार

खूंटी: खूंटी थाना के सारिदकेल रीदाडीह टोली निवासी बसंत मुंडा की हत्या के मामले का 24 घंटे के अंदर खुलासा करते हुए पुलिस ने दो आरोपितों को बुधवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त तोनो(धारदार हथियार) को भी बरामद कर लिया।

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक आशुतोष शेखर ने गुरुवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि पुलिस ने सारिदकेल रीदाडीह टोली के अलदेव उर्फ एतवा मुंडा और बहादुर मुंडा को गिरफ्तार कर लिया।

बताया गया कि मृतक बसंत आपराधिक छवि का व्यक्ति था। वह पहले भी जेल जा चुका था।

कुछ दिनों से वह गांव में ही चोरी करने लगा था। अलदेव उर्फ एतवा और बहादुर बसंत को चोरी करने से मना करते थे, पर बसंत उन्हें ही धमकी देता था। जेल से निकलने के बाद बसंत दोनों से मारपीट भी करता था।

20 जुलाई को बसंत और दोनों आरोपित हॉकी मैच देखकर लौट रहे थे।

उसी दौरान बसंत ने एतवा और बहादुर के साथ बकझक कर दी। आवेश में आकर दोनों ने बसंत की टांगी को छीनकर उसकी हत्या कर दी और शव को मारंगहादा थानांतर्गत कच्चा भूत गांव के देवीगुड़ी नामक स्थान के समीप एक झाड़ी में फेंक दिया।

आठ दिनों के बाद बसंत की लाश सड़ी-गली अवस्था में बरामद हुई थी। कपड़े के आधार पर बसंत के पिता रूसू मुंडा ने शव की शिनाख्त की थी।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button