5 हजार करोड़ रुपये की लागत से सड़कों का बिछेगा जाल: हेमंत सोरेन

मेदिनीनगर: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि सुगम रास्ते नहीं होने से लोगों को परेशानी होती है, तो सरकार की योजनाएं भी उन तक नहीं पहुंच पातीं।

सोरेन ने शुक्रवार को मेदिनीनगर में आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में कहा कि झारखंड में कई ऐसे जटिल इलाके हैं , जहां पदाधिकारी जाते ही नहीं हैं। मुख्यमंत्री पलामू प्रमंडल स्तरीय मेगा परिसंपत्ति वितरण समारोह में बोल रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहुंच मार्गों के अभाव में सरकार की योजनाएं कैसे पहुंचेंगी, यह सहज ही समझा जा सकता है। वहीं, सुदूर ग्रामीण इलाकों में रहने वाले लोगों को योजनाओं का लाभ लेने के लिए प्रखंड अथवा जिला मुख्यालय आना पड़ता है।

ऐसे में, यहां काम कराने में कई कठिनाइयां पैदा होती हैं। अगर एक -दो प्रयास में भी उनके कार्य नहीं होते हैं तो फिर वे योजनाओं से जुड़ने की बात सोचना छोड़ देते हैं। इसी को ध्यान में रखकर आपके अधिकार आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम शुरू किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रोजगार सृजन पर सरकार का विशेष जोर है।सरकार ने पलामू प्रमंडल के सर्वांगीण विकास के लिए कार्य योजना तैयार कर ली है ।

यहां अगले 2 सालों में पांच हज़ार करोड़ रुपये की लागत से सड़कों का जाल बिछेगा। सिंचाई योजनाओं के लिए 800 करोड़ रुपये का डीपीआर बनकर तैयार है ।

इसके अलावा पेयजल समेत अन्य आधारभूत संरचनाओं के विकास के लिए भी राशि की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी ।

समारोह में पलामू प्रमंडल के अंतर्गत आने वाले तीनों जिलों के 11 लाख, 29 हज़ार, 982 लाभुकों के बीच 8 अरब, 58 करोड़, 90 लाख, 07 हज़ार, 666 रुपये की परिसंपत्ति बांटी गयीं।

इसमें मेदिनीनगर जिले के 5 लाख, 63 हज़ार, 678 लाभुकों के बीच 5 अरब, 61 करोड़, 52 लाख, 94 हज़ार 42 रुपये की परिसम्पत्तियां बांटी गयीं, तो गढ़वा जिले के 5 लाख, 48 हज़ार, 209 लाभुकों के बीच 2 अरब, 53 करोड़, 92 लाख, 50 हज़ार 324 रुपये की परिसम्पत्ति वितरित हुई।

लातेहार जिले के 18 हज़ार, 95 लाभुकों के बीच 43 करोड़, 44 लाख, 63 हज़ार, 300 रुपये की परिसंपत्तियों का वितरण किया गया ।

इस मौके पर पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर, श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता, विधायक आलोक चौरसिया, रामचन्द्र सिंह, बैजनाथ राम, श्रीमती पुष्पा देवी और शशि भूषण मेहता, सचिव सुनील कुमार, सचिव कृपानंद झा, प्रमंडलीय आयुक्त, पुलिस उपमहानिरीक्षक, मेदिनीनगर, गढ़वा और लातेहार जिले के उपायुक्त तथा पुलिस अधीक्षक समेत कई पदाधिकारी उपस्थित थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button