” मेरे पिता की मौत स्वाभाविक नहीं खाने में दिया गया जहर” मुख्तार अंसारी के बेटे ने किया दावा

News Aroma Desk

Mukhtar Ansari Death : मुख्तार अंसारी की गुरुवार को कार्डियक अरेस्ट (Cardiac Arrest) से मौत हो गई। जिसके बाद अब मुख्तार अंसारी के बेटे उमर अंसारी ने दावा किया कि उनके पिता की मौत स्वाभाविक नहीं है बल्कि उन्हें खाने में जहर (Poison) दिया गया था।

उन्होंने कहा कि वे न्याय के लिए न्यायपालिका का दरवाजा खटखटाएंगे।

साथ ही उन्होंने कहा, ‘मुझे प्रशासन की ओर से कुछ नहीं बताया गया, मुझे मीडिया के माध्यम से इसके बारे में पता चला। लेकिन अब पूरा देश सब कुछ जानता है।

उमर अंसारी ने कहा कि धीमा जहर देने के आरोप पर हमने पहले भी कहा था और आज भी यही कहेंगे। 19 मार्च को डिनर में उन्हें जहर दे दिया गया। दो दिन पहले मैं उनसे मिलने आया था, लेकिन मुझे अनुमति नहीं दी गई।

पोस्टमार्टम के बाद होगा दाह संस्कार

उमर अंसारी ने कहा, कल Postmortem होगा, उसके बाद वे हमें शव देंगे। इसके बाद हम आगे की प्रक्रिया (दाह संस्कार) करेंगे। मेरे पिता ने आरोप लगाया था कि उन्हें धीमा जहर दिया गया।

पोस्टमार्टम करने के लिए लगभग 5 डॉक्टरों का पैनल बनाया गया है। मुख्तार अंसारी के शव को बांदा के बांदा Medical college अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया गया है।

असदुद्दीन ओवैसी ने किया दुःख व्यक्त

कई राजनीतिक नेताओं ने अंसारी की मौत पर शोक व्यक्त किया। AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने मुख्तार अंसारी के परिवार के समर्थन में दुख व्यक्त किया।

AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक्स पर पोस्ट किया, मैं अल्लाह से प्रार्थना करता हूं कि वह मुख्तार अंसारी को माफ कर दें और उनके परिवार और उनके प्रियजनों को धैर्य प्रदान करें। गाजीपुर के लोगों ने अपने पसंदीदा बेटे और भाई को खो दिया।

मुख्तार साहब ने प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए थे कि उन्हें जहर दिया गया था.। इसके बावजूद, सरकार ने उनके इलाज पर कोई ध्यान नहीं दिया। निंदनीय और अफसोसजनक।

हमें Follow करें!

x