इस मुस्लिम युवक ने अपने निकाह का पहला कार्ड गणेश जी को भेजा, हिंदू रीति-रिवाज…

News Aroma Desk

Muslim Youth sent his Marriage Card to Lord Ganesha: हमारे भारतीय समाज में भावनात्मक पवित्रता के एक से एक उदाहरण मिलते हैं। उत्तर प्रदेश (UP) के बहराइच में सफीपुर (Safipur) गांव निवासी एक मुस्लिम युवक ने अपनी शादी का पहला कार्ड गणेश जी को भेजा है। इसके बाद उन्होंने ‎हिंदू समाज के लोगों को आमंत्रण भेजा है।

जानकारी के अनुसार, मुस्लिम परिवार ने अपने बेटे के विवाह के लिए हिंदू रीति-रिवाज के तहत कार्ड छपवाया है। इसमें प्रथम निमंत्रण भगवान गणेश को दिया गया है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा निमंत्रण कार्ड चर्चा का विषय बना हुआ है।

शादी के कार्ड में दूल्हा- दुल्हन और रिश्तेदारों के नाम तो मुस्लिम है। मगर शादी का कार्ड पूरे हिंदू रीति के अनुसार छपा है। जिस पर शादी की तारीख 29 फरवरी और पता बहराइच के Kaiserganj के गांव का है। वायरल हो रहे शादी के कार्ड की पड़ताल करने के लिए जब कार्ड पर छपे नाम के यक्ति दूल्हे के पिता सफीपुर गांव के रहने वाले अजहुल कमर से बात की गई तो उन्होंने बताया के मेरे बेटे समीर अहमद की शादी 29 फरवरी को जरवल रोड निवासी जुमेराती की बेटी सानिया खातून से होनी है और उन्होंने अपने हिंदू भाइयों को निमंत्रण देने के लिए हिंदू रीति के अनुसार शादी के कार्ड छपवाया है।

उन्होंने बताया ‎कि गांव सफीपुर और कई जगह हिंदू भाइयों को निमंत्रण देना था, तो हमने सोचा क्यों न उनके लिए हिंदू रीति के अनुसार कार्ड छपवाया जाए, हमने परिवार रिश्तेदारों और मुस्लिमों के लिए उर्दू में भी कार्ड छपवाया है, जिसे हिंदू भाई पढ़ नहीं पाएंगे। जिससे हमने अपने हिंदू भाइयों को बेटे की शादी का निमंत्रण देने के लिए ऐसा कार्ड छपवाया है। कहा कि हिंदुओं के लिए प्रीति भोज का कार्यक्रम एक दिन पहले ही रखा है।

मुस्लिम शादी में हिंदू रीति के अनुसार छपे इस कार्ड ने समाज में हिंदू मुस्लिम एकता की मिसाल पैदा की है जो आपसी भाईचारे की डोर को और मजबूत बनाने के लिए यह कार्ड कारगर साबित हो रहा है।

हमें Follow करें!