G-7 शिखर सम्मेलन में वर्चुअली शामिल होंगे मोदी

नयी दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विश्व के सात प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं वाले देशों के समूह जी-7 के 47वें शिखर सम्मेलन में वर्चुअल माध्यम से शिरकत करेंगे।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने यहां संवाददाताओं को बताया कि ब्रिटेन की अध्यक्षता में यह शिखर सम्मेलन 12 एवं 13 जून को हाइब्रिड मॉड में आयोजित किया जा रहा है।

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने श्री मोदी को इस सम्मेलन में आने का निमंत्रण दिया था लेकिन प्रधानमंत्री ने देश में कोविड महामारी की मौजूदा स्थिति को देखते हुए इस सम्मेलन में वीडियो लिंक के माध्यम से भाग लेने का फैसला किया है।

इस सम्मेलन में ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण कोरिया और दक्षिण अफ्रीका को अतिथि देशों के रूप में आमंत्रित किया गया है।

श्री बागची ने कहा कि इस बार जी-7 शिखर सम्मेलन की थीम ‘बिल्ड बैक बैटर’ रखी गयी है और ब्रिटेन ने चार प्राथमिकताएं रेखांकित की हैं जिनमें कोरोना वायरस के प्रकोप से उबरते हुए भविष्य की महामारियों के विरुद्ध सशक्त प्रतिरोध, मुक्त एवं तटस्थ व्यापार के माध्यम से समृद्धि, जलवायु परिवर्तन का मुकाबला एवं पृथ्वी की जैवविविधता का संरक्षण तथा समान मूल्यों एवं मुक्त समाज को सशक्त बनाना शामिल हैं।

सम्मेलन में इन नेताओं के बीच महामारी से उबरने के वैश्विक प्रयासों के साथ स्वास्थ्य एवं जलवायु परिवर्तन पर विशेष रूप से बात होने की संभावना है।

प्रवक्ता ने कहा कि यह दूसरा मौका है जब प्रधानमंत्री श्री मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे।

वर्ष 2019 में फ्रांस की अध्यक्षता में बिआरित्ज़ शिखर सम्मेलन में भारत को सद्भावना साझीदार के रूप में आमंत्रित किया गया था तथा प्रधानमंत्री ने ‘जलवायु परिवर्तन, जैवविविधता एवं महासागर’ और ‘डिजीटल परावर्तन’ के दो सत्रों में शिरकत की थी।

Back to top button