कोरोना की दूसरी लहर ने देशभर में ली 329 डॉक्टरों की जान

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने अब तक 329 डॉक्टरों की जान ले ली है।

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, सबसे ज्यादा डॉक्टरों की मौत बिहार में हुई है जहां, अब तक 80 मौतें दर्ज हुई हैं तो वहीं इसके बाद राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली दूसरे पायदान पर है।

दिल्ली में दूसरी लहर के कारण 73 डॉक्टरों की मौत हुई है।

सूची के मुताबिक, उत्तर प्रदेश तीसरे स्थान पर है। राज्य में कोरोना की दूसरी लहर ने अब तक 41 डॉक्टरों को लील लिया है।

इसके अलावा तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में भी 20-20 डॉक्टरों की जान गई है। महाराष्ट्र में अब तक 14 डॉक्टरों ने जान गवाई है तो वहीं पश्चिम बंगाल में 15 ने।

इसके अलावा पंजाब, पुडुचेरी ऐसी जगहे हैं जहां यह आंकड़ा सिर्फ 1-1 तक सिमटा हुआ है। सूची के मुताबिक, असम में 3, छत्तीसगढ़ में 3, गुजरात में 2, गोवा में 2, हरियाणा में 2, जम्मू-कश्मी में 3, कर्नाटक में 8, केरल में 3, मध्य प्रदेश में 6, ओडिशा में 14, तमिलनाडु में 11, त्रिपुरा में 2, उत्तराखंड में 2 डॉक्टरों की जान कोरोना के कारण गई है।

इससे पहले मंगलवार को खबर आई थी कि देशभर में कोरोना संकट ने एक दिन के अंदर ही 50 डॉक्टरों की जान ले ली थी।

इनमें से 3 फीसदी डॉक्टर ही ऐसे थे, जिन्होंने कोरोना टीके की पूरी डोज ली थी।

भारत में टीकाकरण की शुरुआत हुए 5 महीने का वक्त गुजर गया है और अब भी देश में सिर्फ 66 फीसदी हेल्थवर्कर्स को ही टीका लगा है।

वैश्विक महामारी की पहली लहर में 736 डॉक्टरों की मौत संक्रमण से हुई थी।

इस तरह से कोरोना वायरस की वजह से अब तक देश में 1000 से ज्यादा डॉक्टर अपनी जान गंवा चुके हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button