ममता बनर्जी ने की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाक़ात, उठाया BSF के अधिकार क्षेत्र का मुद्दा

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की और बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र सहित कुछ विषय उनके समक्ष रखे।

प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद ममता बनर्जी ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उन्होंने मुलाकात के दौरान राज्य से जुड़े कई मुद्दों को उठाया है। इसमें सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के अधिकार क्षेत्र के विस्तार का मुद्दा भी शामिल था। प्रधानमंत्री से इस फैसले को वापस लेने की मांग की गई है।

उन्होंने कहा, “बीएसएफ हमारा दुश्मन नहीं है। मैं सभी एजेंसियों की इज्जत करती हूं, लेकिन कानून-व्यवस्था राज्य का विषय है, इससे उसमें टकराव होता है।

उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने पिछले दिनों बीएसएफ का अधिकार क्षेत्र सीमा से 15 किलोमीटर से बढ़ाकर 50 किलोमीटर कर दिया था।

ममता ने कहा कि उन्होंने राज्य में आई प्राकृतिक आपदाओं के मद्देनजर केंद्र से आर्थिक सहयोग की मांग की है। प्रधानमंत्री ने उन्हें हालात का जायजा लेकर सूचित करने की बात कही है। इसके अलावा कोविड टीकाकरण और जूट इंडस्ट्री को लेकर भी चर्चा हुई।

ममता ने त्रिपुरा हिंसा पर भी प्रधानमंत्री के समक्ष अपनी बात रखी है।

यूपी विधानसभा चुनाव से जुड़े सवाल पर ममता बनर्जी ने कहा कि समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव को जरूरत होने पर उनकी पार्टी मदद देने के लिए तैयार है।

चार दिवसीय दिल्ली दौरे पर आई ममता ने आज प्रधानमंत्री से मुलाकात से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद सुब्रमण्यम स्वामी से भी मुलाकात की थी।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button