रेलवे लेकर आया पहला एसी थ्री‎टियर इकॉनमी क्लास कोच

नई दिल्ली: भारतीय रेलवे ने पहला वातानूकूलित (एसी) थ्री-टियर किफायती श्रेणी (इकोनॉमी क्लास) लेकर आया है, जिसे रेल मंत्रालय ने दुनिया का सबसे सस्ता और सबसे बेहतरीन एसी यात्रा करार दिया है।

अधिकारियों ने बताया कि ये डिब्बे किफायती होंगे और ये मौजूदा एसी थ्री-टियर और गैर एसी शयनयान वर्ग के डिब्बों के बीच की श्रेणी में रखे जाएंगे।

यानी कि ये कोच मौजूदा थर्ड एसी और स्लीपर क्लास के डिब्बों के बीच के होंगे। इनका डिजाइन भी काफी कुछ बदला गया है। यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए कई नई चीजें जोड़ी गई हैं।

Image result for अब 3-AC कोच

इसे रेल कोच फैक्टरी (आरसीएफ) कपूरथला ने आगे के परीक्षण के लिए लखनऊ के अनुसंधान डिजाइन और मानक संगठन के पास भेजा है।

इस कोच की परिकल्पना आरसीएफ ने तैयार की और इसके डिजाइन पर अक्टूबर, 2020 से लगातार काम हुआ।

इस नए कोच में ज्यादा यात्री सफर कर सकते हैं क्योंकि इसमें बर्थ की संख्या बढ़ाकर 72 से 83 की गई है।

मंत्रालय ने बताया कि इस डिजाइन में कई नए बदलाव किए गए हैं।

प्रत्येक कोच में दिव्यांग लोगों की सुगमता के हिसाब से शौचालय का दरवाजा तैयार किया गया है।

Image result for अब 3-AC

डिजाइन में यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए कई तरह के सुधार किए गए हैं, पहले की तुलना में अब हर बर्थ पर एसी डक्ट लगा रहेगा, जहां से ठंडी हवा आती है।

वहीं इन कोचों में प्रत्येक बर्थ पर निजी लाइट लगाई गई है, जिससे यात्री अब आराम से पढ़ सकते हैं और मोबाइल चार्जिंग प्वांइट भी हर बर्थ पर दी गई है।

Back to top button