सरकार की लापरवाही के कारण बारिश में सड़ गए अनाज: दीपक प्रकाश

रांची: भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा है कि राज्य सरकार कफन बांट रही थी और भाजपा कार्यकर्ता सेवा कार्य के साथ रक्तदान कर रहे हैं।

प्रकाश मंगलवार को प्रदेश कार्यालय में आयोजित पार्टी के जिलाध्यक्ष एवं जिला प्रभारी की बैठक में बोल रहे थे।

प्रकाश ने कहा कि राज्य सरकार पूरी तरह विफल सरकार साबित हुई है। एक तरफ कोरोना संकट के बीच राज्य की जनता दवा, इलाज, ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड के लिये तरसती रही। राज्य में हत्या, लूट बलात्कार का तांडव मचा रहा।

किसानों के खून पसीना से उपजाए हजारों टन अनाज सरकार की लापरवाही के कारण बारिश में सड़ गए।

किसान आज अपने बकाये के भुगतान के लिये दर दर भटक रहे है। उनके धान बिक्री के बाट जोह रहे और सरकार कान में तेल डालकर सोई हुई है।

उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था की बदहाली ऐसी की राज्य के पुलिस पदाधिकारी की भी हत्या हो जा रही है।

रूपा तिर्की के माता पिता सीबीआई जांच की गुहार लगाते लगाते थक चुके है। यह सरकार युवाओं को निराश कर चुकी है।

नौकरी और भत्ता के नाम पर ठगे गए युवा आज हाथ मे आई नौकरी भी छीने जाने से भयभीत हैं।

राज्य सरकार अपनी विफलता छिपाने के लिये केंद्र पर दोषारोपण करना जानती है। जबकि मोदी सरकार ने राज्य को हर संभव सहायता उपलब्ध कराई।

उन्होंने जिलाध्यक्षों को सेवा कार्य मे बढ़ चढ़कर कार्य करने के लिये बधाई एवं शुभकामनाएं दी।

उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने कोरोना संकट के बीच 3000 यूनिट तक रक्तदान किया।

वहीं हेमंत सरकार कफन बांटकर अपनी पीठ थपथपाती रही। भाजपा कार्यकर्ता राज्य को बर्बाद होते नही देख सकते।

उन्होंने राज्य सरकार की विफलताओं को जनता के बीच लगातार उजागर करते रहने का आह्वान किया।

प्रदेश संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि पूरे जून माह में पार्टी द्वारा अनेक सांगठनिक कार्यक्रम निर्धारित किये गए है।

उन्होंने कार्यक्रमो को जमीनी स्तर पर पूरी तरह व्यापक ,सर्व स्पर्शी बनाने का आह्वान किया। 21जून अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर प्रत्येक मंडल में दो योग शिविर का आयोजन किया जायेगा।

23 जून को पार्टी के संस्थापक एवम प्रेरणा पुरुष डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी का स्मृति दिवस एवम छह जुलाई को उनकी जयंती को को बृहद रूप से मनाया जाएगा।

23 जून से छह जुलाई तक पार्टी द्वारा बृहद पैमाने पर पौधरोपण कार्यक्रम किया जाना भी निर्धारित हुआ है।

25 जून भारत के संसदीय एवम लोकतांत्रिक इतिहास में एक काला दिवस है। कांग्रेस पार्टी की तत्कालीन केंद्र सरकार ने 25 जून 1975 को आपातकाल लगाकर लोकतंत्र की हत्या की थी।

पार्टी इस दिवस को काला दिवस के रूप में मनाएगी। 27 जून को बूथ स्तर तक मन की बात सुनने का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पार्टी आगामी 30 जून को पूरे प्रदेश में हुल दिवस पर कार्यक्रम आयोजित कर हुल क्रांति को याद करेगी।

यह कार्यक्रम पार्टी के अनुसूचित जनजाति मोर्चा द्वारा आयोजित होगा जिसके प्रमुख मोर्चा के अध्यक्ष शिवशंकर उरांव होंगे।

Back to top button