झारखंड

Ranchi Violence : जानिए खुफिया विभाग की वो रिपोर्ट ; जिससे रांची पुलिस हुई हाई अलर्ट, हर किसी पर रखी जा रही नजर

उपद्रवियों पर पुलिसिया कार्रवाई तेज, हर किसी पर रखी जा रही नजर

रांची: रांची हिंसा (Ranchi Violence) के बाद पुलिस उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है। उपद्रव में शामिल संदिग्धों की धरपकड़ भी की जाने लगी है।

पुलिस इस एक्शन में आ गई है कि सोशल मीडिया (Social media) पर भड़काऊ पोस्ट करने वालों की छानबीन भी शुरू कर उन पर लगाया जाने लगा है।

फरार उपद्रवियों की धरपकड़ के लिए पुलिस लगातार छापेमारी भी कर रही है।

रांची की हवा में फिर से जहर घोलने की साजिश

वहीं, दूसरी ओर बताया जा रहा है कि रांची की हवा में फिर से जहर घोलने की साजिश रची जा रही है। खुफिया विभाग की रिपोर्ट आने के बाद से स्थानीय पुलिस प्रशासन अलर्ट हो गया है और वो हर संदिग्ध पर हर समय नजर रखे हुए है। बुधवार शाम संवेदनशील इलाकों में गश्ती बढ़ा दी गई।

कई चिह्नित इलाकों में बैरिकेडिंग (Barricading) कर दी गई है तो कई को सील कर दिया गया है। छह थाना क्षेत्रों में पहले से ही 144 लागू है।

महिलाओं का जुलूस निकाल सकते हैं उपद्रवी

खुफिया रिपोर्ट है कि उपद्रवी और असामाजिक तत्व 17 जून या उसके बाद जुलूस निकालने की तैयारी कर रहे हैं।

रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि इसमें वे महिलाओं को शामिल कर सकते हैं। बता दें कि इससे पहले हुए उपद्रव में युवाओं को शामिल किया गया था। जिसमें दो नाबालिगों की गोली लगने से मौत भी हो गई थी।

खुफिया विभाग ने डीसी को सौंपी रिपोर्ट

खुफिया विभाग ने इससे जुड़ी रिपोर्ट रांची DC छवि रंजन को दी है। इसके बाद DC ने ADM ( विधि व्यवस्था) और SSP के संभावित स्थिति से निपटने की तैयारी करने को कहा है।

साथ ही संवेदनशील स्थानों पर CCTV कैमरा लगाने और वीडियोग्राफी कराने का निर्देश दिया है। जुलूस के संभावित मार्गों पर बैरेकेडिंग और ड्राप गेट लगाने और वाटर कैनन की व्यवस्था करने का भी निर्देश दिया है।

DC के निर्देश के बाद हिंदपीढ़ी के सभी इंट्री प्वाइंट पर बैरेकेडिंग कर दी गयी है। मेन रोड, डोरंडा से सटे इलाके में भी बैरिकेडिंग की गयी है। कई जगह अस्थायी पिकेट बनाया गया है। डोरंडा (Doranda) के झंडा चौक को सील कर दिया गया है।