दिल्ली में लग सकता है Lockdown, CM केजरीवाल ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग

बच्चे, बुजुर्ग और गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी है।

नई दिल्ली: दिल्ली एक बार फिर से लॉक डाउन की तरफ बढ़ रहा है। जी हां दिल्ली में 2 से 3 दिनों के लिए एक बार फिर से Lockdown लगाने पर विचार किया जा रहा है।

दिल्ली-एनसीआर में हवा जहरीली हो गई है। बढ़ते वायु प्रदूषण के चलते एक्यूआई का स्तर लगातार 500 से ऊपर बना हुआ है, जिसकी वजह से लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है।

इस गंभीर मुद्दे पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण को लेकर नाराजगी जाहिर की है। मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना ने कहा कि वायु प्रदूषण से दिल्ली-एनसीआर में गंभीर स्थिति पैदा हो गई है।

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा कि प्रदूषण से निपटने के लिए उसने क्या कदम उठाए हैं। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में लॉकडाउन लगाने पर भी विचार हो।

सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को इसी मुद्दे पर दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए केंद्र सरकार से जल्द से जल्द कदम उठाने के लिए कहा है।

चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना ने कहा कि ऐसी स्थिति में तो लगता है कि घर में भी मास्क पहनकर ही बैठना होगा।

वायु प्रदूषण का स्तर गंभीर श्रेणी में पहुंचने के बाद केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने बच्चे, बुजुर्ग और गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलने की सलाह दी है।

70 प्रतिशत प्रदूषण की वजह धूल, पटाखे, गाड़ियां हैं

आज सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘’सिर्फ पराली जलाने वाले किसानों को ज़िम्मेदार नहीं ठहरा सकते। 70 प्रतिशत प्रदूषण की वजह धूल, पटाखे, गाड़ियां आदि हैं, उस पर लगाम लगे।’’

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा कि पराली के अलावा 70-80 % प्रदूषण के लिए क्या किया जा रहा है। हमें बताइए कि 500 पार पहुंचा AQI कैसे कम होगा।

चीफ जस्टिस रमना ने केंद्र से कहा- हमें मास्क पहनना पड़ रहा है, कृपया आपातकालीन बैठक बुलाइए

सुनवाई के दौरान जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा, ‘’छोटे बच्चों का स्कूल भी खुल गया है, उन्हें क्या-क्या झेलना पड़ रहा है।’’ चीफ जस्टिस रमना ने केंद्र से कहा कि कृपया आपातकालीन बैठक बुलाइए। तेज़ कदम उठाइए। हम चाहते हैं कि कुछ किया जाए जिससे 2-3 दिन में हालात सुधरें। यह ज्वलंत समस्या है और हमें मास्क पहनना पड़ रहा है।’’

CM अरविंद केजरीवाल ने बुलाई आपात बैठक

सुप्रीम कोर्ट की इस टिप्पणी के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वायु प्रदूषण से निपटने के लिए आज आपात बैठक बुलाई है, जिसमें कोई बड़ा फैसला लिया जा सकता है।

आज की इस आपात बैठक में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, पर्यावरण मंत्री गोपाल राय और दिल्ली के मुख्य सचिव शामिल होंगे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button