खेल

बुमराह के पांच विकेट, केएल राहुल की बल्लेबाजी ने T20 World Cupकी उम्मीदों को जगाया

वह सलामी बल्लेबाज केएल राहुल हैं

मुंबई: कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुंबई इंडियंस के लिए जसप्रीत बुमराह की तेज गति सोमवार की रात को पांच बार की आईपीएल चैंपियन को जीत हासिल नहीं करा सकी, लेकिन पांच विकेट लेने से चयनकर्ताओं को 28 वर्षीय क्रिकेटर के महत्व के बारे में पता चल गया होगा।

भारत का लक्ष्य इस साल के अंत में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आगामी आईसीसी टी20 विश्व कप में अपना गौरव और बहुत कुछ बचाना है।

बुमराह ने सोमवार को सभी को याद दिलाया कि वह आईपीएल के कितने बेहतरीन खिलाड़ी हैं, हालांकि उनका प्रदर्शन थोड़ा देर से आया है क्योंकि मुंबई इंडियंस इस साल के खिताब के लिए टूर्नामेंट से बाहर हो गई है।

केकेआर से हारने के दौरान तेज गेंदबाज के पास मुंबई इंडियंस के लिए चार ओवरों में 5/10 के शानदार आंकड़े थे और दाएं हाथ के इस बल्लेबाज के पास अब टूनार्मेट के लिए 10 विकेट हैं।

दूसरे खिलाड़ी जो भारत के चयनकर्ता मेगा इवेंट से पहले करीब से देख रहे होंगे, वह सलामी बल्लेबाज केएल राहुल हैं।

आईपीएल के प्रदर्शन के आधार पर फैसला नहीं लेना चाहेंगे

लखनऊ सुपर जायंट्स के कप्तान ने आईपीएल 2022 में अब तक 451 रन बनाए हैं, जो इस सीजन में आईपीएल में किसी भी भारतीय खिलाड़ी द्वारा सबसे अधिक है।

हालांकि, पंजाब किंग्स के खिलाड़ी शिखर धवन (381) भी पीछे नहीं हैं और उन्हें इस साल के अंत में टी20 विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करने की आकांक्षाओं को बरकरार रखना चाहिए।

हार्दिक पंड्या (गुजरात टाइटंस के लिए 333 रन) और श्रेयस अय्यर (कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए 336 रन) भी टूनार्मेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले शीर्ष 10 खिलाड़ियों में शामिल हैं।

वहीं विराट कोहली (रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए 216 रन) और रोहित शर्मा (मुंबई इंडियंस के लिए 200 रन) अपने हाई स्टैंडर्ड से नीचे प्रदर्शन कर रहे हैं, जबकि ऋषभ पंत (दिल्ली कैपिटल के लिए 281 रन) कई बार अच्छा प्रदर्शन करते दिखे हैं।

लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल 22 विकेट के साथ टूर्नामेंट में अग्रणी विकेट लेने वाले गेंदबाज बने हुए हैं, बाएं हाथ के कुलदीप यादव (दिल्ली कैपिटल के लिए 19.55 पर 18 विकेट) और अनुभवी सीमर टी. नटराजन (17.82 पर सनराइजर्स हैदराबाद के लिए 17 विकेट) ज्यादा पीछे नहीं हैं।

मौजूदा फॉर्म के आधार पर, इनमें से अधिकांश खिलाड़ी आईसीसी टी20 विश्व कप में जगह बना सकते हैं लेकिन टूर्नामेंट अभी छह महीने दूर है।

चयनकर्ता शायद इंतजार करना चाहेंगे और सिर्फ आईपीएल के प्रदर्शन के आधार पर फैसला नहीं लेना चाहेंगे।