भारत

केरल के मुख्यमंत्री की बढ़ी मुश्किलें, सोने की तस्करी के मामले में ED करेगी स्वप्ना से पूछताछ

तिरुवनंतपुरम: प्रवर्तन निदेशालय  केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन (Pinarayi Vijayan) पर सोने और करेंसी की तस्करी में संलिप्तता का आरोप लगाने वाले मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश से बुधवार को पूछताछ करेगी।

स्वप्ना सुरेश (Swapna Suresh) ने इस माह मजिस्ट्रेट के समक्ष दिए गए बयान में मुख्यमंत्री, उनकी पत्नी और बेटी पर आरोप लगाए थे। ED के समक्ष पेश होने पर स्वप्ना का दिया गया बयान पिनारई विजयन की मुश्किलें बढ़ा सकता है।

ED के समक्ष स्वप्ना दूसरी बार पेश हो रही है। वह पहली बार 2020 में पेश हुई थी, जब उसे बेंगलुरु में सोने की तस्करी के मामले में गिरफ्तार किया गया था। ED की पहली पूछताछ में स्वप्ना ने मुख्यमंत्री का नाम नहीं लिया था।

ऐसा लग रहा था कि यह मामला शांत हो गया है और पिनाराई पर छाये संकट के बादल छंट गए हैं लेकिन स्वप्ना ने अपने नये बयान में उनके पूरे परिवार को घसीट लिया।

स्वप्ना ने नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र 

स्वप्ना ने साथ ही यह आरोप लगाया था कि एक मध्यस्थ के माध्यम से एक शीर्ष पुलिस अधिकारी मामले को निपटाने की कोशिश कर रहा है, जिसके बाद अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक एम आर अजीत कुमार को पद से हटा दिया गया था।

इसके बाद पुलिस ने स्वप्ना से नये सिरे से पूछताछ करने की कोशिश की लेकिन अदालत (Court) ने इस कोशिश को नाकाम कर दिया और इसी दौरान ED ने भी स्वप्ना को बुधवार को पूछताछ के लिए पेश होने का नोटिस भेजा।

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को पत्र लिखते हुए स्वप्ना ने सोने की तस्करी के मामले में केरल सरकार की भूमिका की सीबीआई से जांच कराने की मांग की।

पिनाराई विजयन को सत्तारुढ वाम लोकतांत्रिक मोर्चे ने समर्थन देने का निर्णय लिया है लेकिन विपक्षी कांग्रेस विधानसभा (Assembly) के नए सत्र में इस मसले पर मुख्यमंत्री को घेरने की तैयारी कर रही है।