झारखंड

झारखंड में यहां चौथारी के बाद प्रेमी के साथ बाइक पर बैठ फरार हुई दुल्हन

घरवालों ने इचाक थाना में आवेदन दे तलाश करने की गुहार लगाई

हजारीबाग: शादी के चार दिनों बाद ही नवविवाहिता (Newly Married) प्रेमी के साथ चली गई।

यह सबकुछ हुआ चौथारी के बाद विदाई के तुरंत बाद। मौके पर पति भी मौजूद था।। घटना हजारीबाग (Hazaribagh) जिला के इचाक थाना क्षेत्र के जलौन्ध गांव की है।

घरवालों द्वारा खोजबीन के बाद भी दोनों का पता नहीं चला। थक-हारकर घरवालों ने इचाक थाना में आवेदन दे तलाश करने की गुहार लगाई है।

झारखंड में यहां चौथारी के बाद प्रेमी के साथ बाइक पर बैठ फरार हुई दुल्हन

तीन साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था

जानकारी के मुताबिक जलौन्ध गांव की बबली और जबरा निवासी अनोज राम का तीन साल से प्रेम प्रसंग (Love Affairs) चल रहा था।

इसी बीच बबली के घर वालों ने उसकी शादी चतरा जिला के पीतीज निवासी संदीप राम से तय कर दी। संदीप और बबली की शादी रीति रिवाज से सात मई की रात हुई।

शादी के बाद बबली आठ मई को शौहर के साथ ससुराल चली गई। ससुराल में दो दिन रुकने के बाद चौथारी की रस्म पूरा करने नौ मई को नवविवाहित दंपति जलौंध पहुंचे।

वहां दोनों का भरपूर सत्कार हुआ। 11 मई को दोनों को विदाई दे दी गई। संदीप और बबली वाहन से पीतीज के लिए निकले। इसी बीच दुल्हन ने पति के फोन से अपने प्रेमी को इचाक मोड़ पर बुला लिया। न

झारखंड में यहां चौथारी के बाद प्रेमी के साथ बाइक पर बैठ फरार हुई दुल्हन

प्रेमी की बाइक पर बैठ फरा हुई दुल्हन

वविवाहित दंपति के इचाक मोड़ पहुंचने से पूर्व अनोज बाइक से वहां पहुंचकर इंतजार कर रहा था। इचाक मोड़ पर भीड़भाड़ के कारण उनका वाहन धीरे हो गया।

इस दौरान नवविवाहिता वाहन से उतर कर प्रेमी की बाइक पर बैठ गई। अनुज बाइक स्टार्ट कर हजारीबाग की ओर निकल गया।

कुछ क्षण पत्नी का इंतजार करने के बाद संदीप ने ससुराल वालों को फोन पर आपबीती बताई। इसके बाद बबली की खोजबीन शुरू हुई।

नहीं मिलने के बाद बुधवार देर रात बबली के पिता छोटन राम, पति संदीप राम दर्जनों लोग इचाक थाना पहुंचे और बबली के प्रेमी अनोज संग फरार होने का आवेदन दे दिया।

प्रेमी की बाइक पर बैठ फरा हुई दुल्हन