पुल टूटने के मामले में एजेंसी के ठेकेदार पर आर्थिक लगाने का निर्देश,पथ निर्माण सचिव ने…

Newswrap
पुल टूटने

गिरिडीह : गिरिडीह-जमुई को जोड़ने वाले भेलवाघाटी के अरगा नदी पुल टूटने के मामले में पथ निर्माण विभाग के सचिव ने ओम नम: शिवाय एजेंसी के ठेकेदार रंजन गुप्ता को आर्थिक दंड लगाने का निर्देश दिया है। वहीं पथ प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता विनय कुमार को शो कॉज नोटिस जारी कर निर्माणाधीन पुल टूटने का कारण पूछा है।

कार्यपालक अभियंता विनय कुमार ने कहा की सचिव के निर्देश पर ओम नम: शिवाय एजेंसी के ठेकेदार से नुकसान की भरपाई किया जाना है। वैसे ठेकेदार पर कार्रवाई अभी होना बाकी है। सचिव के निर्देश का इतंजार है, निर्देश के आधार पर ठेकेदार के खिलाफ केस दर्ज कराया जा सकता है तो सिक्योरिटी की राशि को सीज करने का भी निर्देश मिल सकता है. फिलहाल, बारिश के बाद नदी में आए तेज बहाव के कारण पुल का एक बड़ा हिस्सा टूटकर बहने की घटना से करीब डेढ़ करोड़ के नुकसान का अनुमान है।

सचिव के निर्देश पर ठेकेदार ने गिरिडीह पथ प्रमंडल को सोमवार को एक अंडर टेकिंग लिख कर दिया है, जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई खुद ठेकेदार द्वारा किया जाना है। नुकसान का अतिरिक्त राशि खर्च करने का कोई दावा विभाग पर नही किया जाएगा।

इस बीच कार्यपालक अभियंता विनय कुमार सोमवार को दूसरी बार टूटे पुल का जायजा लेने पहुंचे. बताते चलें की पांच साल पुराना योजना का कार्य अधूरा था और बारिश में ठेकेदार रंजन गुप्ता ने जब सेंट्रिंग सेट किया, और ढलाई किया, तो नदी के तेज बहाव के पुल का एक स्पेन टूट कर गिर पड़ा और तेज बहाव में सब बह गया। वहीं एक पुल भी टेढ़ा हो गया, जिससे करीब डेढ़ करोड़ के नुकसान की बात सामने आई है।

हमें Follow करें!