झारखंड : महताब हत्याकांड का उद्भेदन, ब्लैकमेल करके लड़की से संबंध बनाने की कोशिश बनी हत्या की वजह ; चार गिरफ्तार

मेदिनीनगर: शहर थाना क्षेत्रके पहाड़ी मुहल्ले में हुए महताब हत्याकांड का पुलिस ने बुधवार को खुलासा किया है।

सदर एसडीपीओ के विजय शंकर ने बताया कि इस हत्याकांड के मुख्य आरोपी फारूक, बजाज उर्फ फिरोज, सरफराज उर्फ छोटू कुरैशी व अरबाज़ अली को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पुलिस ने फारूक का खून लगा हुआ वह कपड़ा भी बरामद किया है।

महताब पानी फैक्ट्री में काम करता था और फारूक ठेला पर चप्पल बेचता था। कभी कभी महताब फारूक को चप्पल बेचने में मदद करता था, जिसके लिए वह महताब को एक दिन का 250 रूपया देता था।

चप्पल बेचने के दौरान ही फारूक की जान पहचान लातेहार की एक लड़की से हुई। फिर दोनों में प्रेम हो गया। ये अक्सर एक दूसरे से मिलते थे।

फारूक ने पुलिस को बताया है कि महताब लड़की के साथ उसके रिश्ते को लेकर अक्सर उसे ब्लैकमेल करने लगा।

दरअसल, उसे ब्लैकमेल करके महताब भी लड़की से संबंध बनाना चाहता था।

फारूक ने यह बात बजाज को बताया। बजाज ने फारूक को महताब के घर भेजा कि उसे बुला लाये। फारूक महताब को लेकर कोयल नदी आया। वहां सरफराज और अरबाज़ पहले ही से मौजूद थे।

सभी ने मिलकर महताब को खूब गांजा पिलाया और जब वह नशे में हो गया तो नदी के बालू पर ही ईंट पत्थर से कूचकर उसकी हत्या कर दी।

Back to top button