सुरक्षा कानून लागू करने की मांग को लेकर धनबाद में IMA ने जताया विरोध

धनबाद: पूरे देश में शुक्रवार को आईएमए के द्वारा काला दिवस मनाया जा रहा है। सभी डॉक्टर काला पट्टी लगाकर कार्य कर रहे हैं।

डॉक्टरों ने सुरक्षा कानून की मांग को लेकर पूरे देश में कालापट्टी लगाकर सरकार के खिला

फ विरोध प्रदर्शन दर्ज करा रहे है और केन्द्र सरकार से डॉक्टरों के लिए सुरक्षा कानून लागू करने की मांग कर रहे है।

इसी क्रम में धनबाद में भी डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ ने कालापट्टी लगाकर अपने कार्यो का निष्पादन किया और सुरक्षा कानून लागू करने की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया।

इस दौरान डॉक्टरों ने कहा कि आज कई जगह अस्पतालों में तोड़फोड़ की घटनाएं हो रही है। डॉक्टरों के साथ मारपीट की घटनाए देखी जाती है।

उन्होंने कहा हम लोग सेवा भाव से मरीजों की सेवा करते हैं। बावजूद इसके हमपर जानलेवा हमला किया जाता है।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में पूरे देश में 730 डॉक्टरों की मौत हो चुकी है। जबकि झारखंड में ही 63 डॉक्टर काल के गाल में समा चुके हैं।

आई एम ए अध्यक्ष एके सिंह व धनबाद पाटलिपुत्र नर्सिंग होम के प्रबंधक सह डॉक्टर निखिल ड्रोलिया ने कहा कि कोरोना काल के कठिन परिस्थिति मैं भी डॉक्टर अपनी सेवा देते रहे है।

फिर भी आज के समय में डॉक्टरों पर हमला बढ़ा है।

इसलिए पूरे देश में आई एम ए की ओर से केंद्र सरकार से सुरक्षा कानून लागू करने की मांग को लेकर आंदोलन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा की आंदोलन के तहत हम लोग कार्य भी कर रहे हैं।

ओपीडी भी चालू है, सिर्फ काला बिल्ला लगाकर अपनी मांग को सरकार तक पहुंचाना चाहते हैं, ताकि डॉक्टरों को भी सुरक्षा प्रदान हो और सभी चिकित्सक निर्भीक होकर काम कर सकें।

Back to top button