हत्या, लूट और आगजनी कांड में तीन दिन बाद भी अपराधियों का नहीं मिला सुराग

Digital Desk

Ramgarh Murder Case : ऐसी स्थिति में अपराधियों (Criminals) का हौसला बढ़ना स्वाभाविक है। रामगढ़ (Ramgarh) शहर के छोटकीमुर्राम के विद्यानगर में घटित सुशीला देवी की हत्या (Murder), लूट और आगजनी कांड को लेकर तीन दिन बाद भी पुलिस को अपराधियों का कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

हालांकि, घटना की गंभीरता के मद्देनजर CID के अलावा दूसरे जिले की भी पुलिस जांच में सहयोग कर रही है।

इधर, Ramgarh SP डॉ. बिमल कुमार ने हत्या, लूट और आगजनी कांड की जांच के लिए SIT गठित की है।

उन्होंने रामगढ़ SDPO परमेश्वर प्रसाद के नेतृत्व में SIT गठित कर जांच के आदेश दिए हैं।SP ने मामले का जल्द उभेदन कर अपराधियों की पहचान कर गिरफ्तार करने का आदेश दिया है।

CCTV फुटेज में चार संदिग्ध दिखे

SDPO ने अपने स्तर पर मामले की जांच शुरू कर दी है। CID की टीम ने भी घटनास्थल का जायजा लिया, जबकि CCTV फुटेज में चार संदिग्ध दिखे हैं। पुलिस इनकी पहचान करने में जुटी हुई है।

इसमें एक युवक ब्लैक टी शर्ट और टोपी, दूसरा युवक ब्लैक शर्ट और क्रीम कलर का पैंट पहने अपने चेहरे को गमछा से छिपाए, तीसरा पुलिस के युवक जिंस शर्ट और टोपी पहने दिख रहा है।

इसके अलावा एक युवती लेगिन्स और कुर्ती पहनी सीसीटीवी कैमरे में संदिग्ध अवस्था में कैद की हुई है।

लड़की और जींस शर्ट पहने युवक के पास बैग और पर्स दिख रहा है। मुताबिक घटनास्थल से गुजरने वाले सभी रूट और गली मुहल्ले में लगे CCTV कैमरे के फुटेज को खंगाला जा रहा है।

पुलिस अपराधियों के आने और जाने का रूट पता कराना चाह रही है।

वहीं, अपराधी कैसे आए थे, उनके पास कोई गाड़ी थी या बाइक थी। इसकी भी जांच की जा रही है।

पुलिस की टेक्नीकल सेल की टीम घटनास्थल के पास सभी मोबाइल नंबरों को ट्रेस कर रही है, ताकि अपराधियों तक पहुंचा जा सके। फिर भी अभी तक सफलता हाथ नहीं लग सकी है।

हमें Follow करें!