दुमका में पत्थर व्यवसायी से रंगदारी मांगने के मामले में दो गिरफ्तार

दुमका: शिकारीपाड़ा पुलिस ने हथियार का भय दिखाकर पत्थर व्यवसायी से 50 हजार रुपये रंगदारी मांगने वाले दो युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

गिरफ्तार आरोपितों में वीरभूम जिला के मारग्राम थाना क्षेत्र के पतना गांव निवासी इंद्रजीत माल और राजू माल शामिल हैं।

वहीं, एक आरोपित पुलिस को चकमा देकर भागने में सफल रहा। इसकी जानकारी प्रेसवार्ता कर रविवार को एसडीपीओ, सदर मोहम्मद नूर मुस्तफा ने दी।

उन्होंने बताया कि थाना क्षेत्र के जामरूपानी स्थित क्रशरों में कुछ बदमाशों ने हथियार का भय दिखाकर रंगदारी की मांग की थी।

थाना प्रभारी सुशील कुमार के नेतृत्व में क्रशर के श्रमिकों ने दो बदमाशों को पकड़ लिया। पुलिस वीरभूम जिला के रामपुर हाट के निश्चितपुर निवासी पीड़ित क्रशर मालिक की लिखित शिकायत पर आरोपित युवकों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पुलिस ने आरोपितों के पास से पल्सर बाईक, दो मोबाईल एवं रंगदारी मांगने के लिए लिखा धमकी भरा पत्र बरामद की।

धमकी भरे पत्र में आरोपितों ने व्यवसायी से 10 जून को पैसे का मांग किया था।

पैसे नहीं देने पर गोली मारने की धमकी दी थी। जिसकी सूचना पुलिस को दी गई।

उल्लेखनीय है कि गिरफ्तार आरोपित राजू माल दोनों हाथ से दिव्यांग है. जबकि इंद्रजीत माल शिकारीपाड़ा के समीप ही एक पत्थर स्टोन क्रशर प्लांट में मैनेजर का काम करता था।

पूरे खेल का मास्टर माइंड इंद्रजीत माल को बताया जा रहा है। एसडीपीओ ने बताया कि गिरोह के अन्य सदस्यों की जल्द पुलिस गिरफ्तारी करने में सफल होगी।

Back to top button