झारखंड में बसों का परिचालन बंद होने के बावजूद चुपके से घुस रहीं बसें, सख्त कार्रवाई करने का आदेश

रांची: झारखंड में कोरोना महामारी को देखते हुए बसों का परिचालन बंद है। बावजूद दूसरे राज्यों की बसें चोरी-छिपे गुप्त रास्ते से राज्य में प्रवेश कर रही हैं और यात्रियों से मोटी राशि भी वसूल रही है।

कहीं चेक नाका पर कोई रोका तो कोई दिक्कत नहीं, जुर्माना देकर या चढ़ावा देकर आगे चल देते हैं।

कई जिलों में डीटीओ अगर बसों को पकड़ते भी हैं तो जुर्माना लेकर छोड़ देते हैं, जिसे परिवहन सचिव ने गंभीरता से लिया।

महामारी को देखते हुए राज्य में चुपके से घुस रहीं बसों के खिलाफ सभी जिला परिवहन पदाधिकारियों को सख्त कार्रवाई करने का आदेश भी दिया गया है।

यह आदेश परिवहन सचिव ने दिया है। परिवहन सचिव के निर्देश पर ही सभी जिलों के जिला परिवहन पदाधिकारियों को पत्र जारी किया गया है।

उनसे पूछा गया है कि प्रतिबंध के बाद भी बसों का परिचालन होता है और उसे सिर्फ जुर्माना लेकर क्यों छोड़ा जा रहा है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button