भारत

केंद्र में किसकी बनेगी सरकार, इस बारे में इस नेता ने ऐसी बात कह सबको चौंकाया

देश में अगली सरकार किसकी बनेगी और अगला प्रधानमंत्री कौन होगा, इसे लेकर कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं।

Lok Sabha Election 2024 : देश में अगली सरकार किसकी बनेगी और अगला प्रधानमंत्री कौन होगा, इसे लेकर कई तरह की चर्चाएं चल रही हैं। एक तरफ BJP खुद को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है कि PM मोदी तीसरी बार सरकार संभालने जा रहे हैं।

वहीं, विपक्षी I.N.D.I.A. गुट दावा कर रहा है कि अगली सरकार विपक्ष की बनेगी। उधर, इस बीच चुनाव विश्लेषक और किसान नेता योगेंद्र यादव (Yogendra Yadav) ने BJP की सरकार बनने की भविष्यवाणी कर विपक्ष को चौंका दिया है।

योगेंद्र यादव ने कहा कि BJP 240 से 260 सीट तक जीत सकती है। BJP के सहयोगी दल 35 से 45 सीट जीत सकते हैं। इससे NDA की सरकार आसानी से बन जायेगी।

Yogendra Yadav ने कांग्रेस के लिए भी भविष्यवाणी की। उन्होंने कहा कि पार्टी इस बार 100 सीटों का आंकड़ा पार कर सकती है। उधर, प्रशांत किशोर ने योगेंद्र यादव के विश्लेषण को सही बताते हुए ‘X’ पर लिखा कि केंद्र में सरकार बनाने के लिए 272 सीटें चाहिए। मौजूदा लोकसभा में BJP के पास 303 और NDA के पास 323 सीटें हैं।

योगेंद्र यादव से पहले प्रशांत किशोर ने दावा किया था कि मोदी सरकार फिर से सत्ता में आ रही है। उनका कहना था कि सरकार बनाने के लिए जरूरत भर की सीट BJP को आसानी से मिल जायेगी, लिहाजा विपक्ष के लिए सत्ता में लौटने की संभावना खत्म हो जायेगी।

विपक्षी I.N.D.I.A. गुट खुद की सरकार बनने का दावा कर रही है। विपक्ष को उम्मीद है कि जनता इस बार मोदी सरकार को सत्ता से बाहर कर देगी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी का दावा है कि जनादेश विपक्ष के पक्ष में आयेगा।

जनता ने झूठ, नफरत को नकार दिया है : राहुल गांधी

उधर, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने शनिवार को मतदान करने के बाद कहा कि देश की जनता ने इस लोकसभा चुनाव में झूठ, नफरत और दुष्प्रचार को नकार दिया है।

कांग्रेस संसदीय दल की प्रमुख सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने नयी दिल्ली संसदीय क्षेत्र में वोट डाला।

मतदान के बाद अपनी मां सोनिया गांधी के साथ एक तस्वीर साझा करते हुए राहुल गांधी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ‘X’ पर पोस्ट किया, “देशवासियो, पहले पांच चरणों के मतदान में आपने झूठ, नफरत और दुष्प्रचार को नकार कर अपने जीवन से जुड़े जमीनी मुद्दों को प्राथमिकता दी है।”

x