भारत

ममता बोलीं- लंबे समय तक नहीं टिकेगी नयी मोदी सरकार, कई BJP नेता पार्टी छोड़ेंगे

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (TMC) प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने शनिवार को कोलकाता में पार्टी के नेताओं के साथ बैठक की।

TMC chief Mamata Banerjee: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस (TMC) प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने शनिवार को कोलकाता में पार्टी के नेताओं के साथ बैठक की।

इस बैठक में पार्टी के नेताओं ने Mamata Banerjee को एक बार फिर पार्टी का अध्यक्ष चुना। इस मौके पर ममता बनर्जी ने कहा कि देश को बदलाव चाहिए। हम स्थिति पर नजर बनाये हुए हैं।

केंद्र में NDA की तीसरी बार बनने जा रही सरकार पर टिप्पणी करते हुए Mamata Banerjee ने दावा किया कि यह सरकार लंबे समय तक नहीं टिकेगी। आनेवाले दिनों में BJP के कई नेता पार्टी छोड़ेंगे। वे लोग नरेंद्र मोदी से खुश नहीं हैं।

बैठक में कोलकाता उत्तर के सांसद सुदीप बंदोपाध्याय को फिर से लोकसभा का नेता चुना गया। डॉ काकोली घोष दस्तीदार को लोकसभा में उपनेता, कल्याण बनर्जी (Kalyan Banerjee) को मुख्य सचेतक, डेरेक ओ ब्रायन को राज्यसभा में नेता, सागरिका घोष को उपनेता और नदीमुल हक को मुख्य सचेतक की जिम्मेदारी दी गयी है।

जनादेश मोदी के खिलाफ, किसी और को बनना चाहिए प्रधानमंत्री

ममता बनर्ज ने कहा कि इस जनादेश (240 सीट) के बाद Narendra Modi को प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहिए। यह जनादेश नरेंद्र मोदी के खिलाफ है, इसलिए उन्हें इस बार प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहिए, बल्कि किसी और को मौका देना चाहिए था।

उन्होंने कहा कि आज भले ही I.N.D.I.A. ने अभी सरकार बनाने का दावा नहीं किया है, लेकिन इसका अर्थ यह नहीं है कि कल ऐसा नहीं होगा।

नयी सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होगी TMC

ममता बनर्जी ने कहा कि उनकी पार्टी ‘Wait and Watch’ की स्थिति में रहेगी और अगर कमजोर और अस्थिर BJP नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार सत्ता से बाहर हो जाती है, तो उन्हें प्रसन्नता होगी। उन्होंने कहा कि पार्टी नयी सरकार के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल नहीं होगी।

CAA को रद्द करने की मांग संसद में उठायेंगे

ममता बनर्जी ने CAA को रद्द करने की मांग की है। उन्होंने कहा, “हम संसद में CAA को रद्द करने की मांग उठायेंगे।” उन्होंने कहा कि देखते हैं कि देश में NDA सरकार कितने दिन चलती है।

ममता बनर्जी ने यह भी मांग की कि केंद्र सभी राज्यों का बकाया चुकाये। बता दें कि रविवार को नरेंद्र मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेनेवाले हैं।

x