कोरोना की नई लहर का कहर, 25 जिलों में लौटे पाबंदियों के दिन

नई दिल्ली: देश में कोरोना की नई लहर के कहर ने चिंताएं बढ़ा दी हैं। बीते 6 दिनों से लगातार देश भर में 20,000 से ज्यादा केस सामने आ रहे हैं।

महाराष्ट्र, पंजाब, केरल, मध्य प्रदेश, गुजरात, हरियाणा और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों में संकट गहरा रहा है।

यही नहीं कोरोना के बढ़ते केसों के साथ ही पाबंदियों के दिन भी लौटने लगे हैं।

अब तक देश के 25 जिलों में नाइट कर्फ्यू या लॉकडाउन का ऐलान हो चुका है। यही नहीं यदि हालात नहीं सुधरे तो कुछ और शहरों में पाबंदियां लग सकती हैं।

इस बीच पंजाब के रूपनगर जिले में भी आज से नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है। यह नाइट कर्फ्यू रात्रि 11 बजे से सुबह 5 बजे तक लागू रहेगा। प्रशासन के मुताबिक अगले आदेश तक यह जारी रहेगा।

पंजाब के लुधियाना, पटियाला, मोहाली, फतेहगढ़ साहिब, जालंधर, नवांशहर, कपूरथला, होशियारपुर और रूपनगर में अगले आदेश तक के लिए नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है।

बीते 24 घंटों में राज्य में कोरोना के 1,475 नए  केस सामने आए हैं। इसके अलावा 38 लोगों की मौत हुई है।

पंजाब देश के उन कुछ राज्यों में से एक है, जहां हर दिन 1,000 से ज्यादा कोरोना के नए केस मिल रहे हैं।

महाराष्ट्र सरकार बीते करीब एक महीने से लगातार यह चेतावनी दी रही है कि यदि हालात ठीक नहीं हुए तो पूरे राज्य में ही लॉकडाउन लग सकता है।

अब तक प्रदेश के करीब 10 जिलों में लॉकडाउन समेत नाइट कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लग चुकी हैं।

नागपुर में सरकार ने 15 से 21 मार्च तक पूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया है।

इसके अलावा पुणे में स्कूल और कॉलेजों को 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला लिया गया है।

नासिक जिले में शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक के लिए नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया गया है। यही नहीं सोमवार को ही लातूर में भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया है।

परभणी जिले में दो दिन का वीकेंड लॉकडाउन बीते सप्ताह लागू किया गया था। आशंका जताई जा रही है कि इस सप्ताह भी ऐसा किया जा सकता है।

इसके अलावा नांदेड़ में 12 से 21 मार्च तक के लिए नाइट कर्फ्यू का फैसला लिया गया है। रायगढ़ जिले के पनवेल शहर में 12 से 22 मार्च तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। जलगांव जिले में 12 से 14 मार्च तक जनता कर्फ्यू लगा था।

वाशिम जिले में भी 8 से 15 मार्च तक नाइट कर्फ्यू लागू किया गया था।

इसके अलावा शनिवार को शाम 5 बजे से सोमवार को सुबह 9 बजे तक 38 घंटों का कर्फ्यू भी लगा था।

धुले जिले में 14 मार्च से 17 मार्च तक नाइट कर्फ्यू लगा है। इसके अलावा साप्ताहिक बाजारों को भी 31 मार्च तक बंद रखने का फैसला लिया गया है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button