सीतारमण ने संसद में राहुल के भाषण पर उठाए सवाल

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर देश की छवि को खराब करने के लिए फर्जी नैरेटिव बनाने का आरोप लगाया।

साथ ही दो दिन पहले संसद में कृषि कानूनों पर उनके भाषण से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवाल भी किए।

वित्त मंत्री लोकसभा में केंद्रीय बजट 2021-22 की चर्चा पर जवाब दे रही थीं, उन्होंने इस दौरान सदन में राहुल गांधी के गुरुवार के भाषण पर सवाल उठाए, जो केवल किसानों के विरोध मुद्दे पर केंद्रित था न कि केंद्रीय बजट पर।

सीतारमण ने पूछा कि क्या कांग्रेस ब्रेक इंडिया सोच रखने वाले समूहों में शामिल हो रही है और आरोप लगाया है कि राहुल के साथ-साथ उनकी पार्टी भी लगातार फर्जी नैरेटिव फैला रही है।

मंत्री ने कहा कि राहुल ने अपने भाषण में किसानों के मुद्दे पर ही केवल टिप्पणी की, जबकि यह बजट चर्चा का हिस्सा था।

सीतारमण ने पूछा कि मध्य प्रदेश (जब कांग्रेस सत्ता में थी) और राजस्थान में कृषि ऋण माफी लागू क्यों नहीं की गई।

सीतारमण ने कहा, मुझे उम्मीद थी कि राहुल गांधी मध्यप्रदेश में कर्ज माफी के बारे में बताएंगे।

राहुल गांधी ने तीन कृषि कानूनों पर अपने भाषण में निशाना साधा था, जिसपर वित्त मंत्री ने कहा कि वह उम्मीद कर रही थीं कि राहुल गांधी कम से कम ऐसी एक कमी इन कानूनों के बारे में बताएंगे, जिससे यह पता चले कि ये कानून किसान विरोधी हैं।

वित्त मंत्री ने सवाल करते हुए कहा, गांधी हम दो, हमारे दो का जिक्र करते हैं।

लेकिन जब पीएम मोदी ने छोटे किसानों के बारे में बात की, मुझे उम्मीद थी कि तो राहुल गांधी अपने दो को किसानों से जमीन लौटाने के लिए कहेंगे, जिसे कम कीमतों पर अधिग्रहण किया गया था।

लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।

सीतारमण ने कहा, मुझे याद है कि उन्होंने कोविड-19 महामारी के बारे में क्या कहा था।

मैं उसी को दोहराकर सदन का समय बर्बाद नहीं करना चाहती, लेकिन सारांश कुछ इस तरह से था कि मैं भारत को नीचा दिखाना जारी रखूंगा।

Back to top button