पुराने सोशल मीडिया पोस्ट से दिक्कत में ऑयन मॉर्गन और हेड कोच ब्रैंडन मैकुलम

नई दिल्ली: पुराने सोशल मीडिया पोस्ट आईपीएल के कुछ दिग्गज विदेशी खिलाड़ियों को दिक्कत में डाल सकती हैं।

कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान ऑयन मॉर्गन और हेड कोच ब्रैंडन मैकुलमके खिलाफ केकेआर फ्रेंचाइजी कड़े कदम उठा सकती है।

यह सामने आया है कि मॉर्गन, जोस बटलर और मैक्कलम भारतीय लहजे का मजाक उड़ा रहे थे।

साल 2018 में इंग्लैंड के वनडे-टी20 कप्तान मॉर्गन और विकेटकीपर बल्लेबाज जोस बटलर ने भारतीय प्रशंसकों का मजाक उड़ाने के लिए ‘सर’ शब्द का इस्तेमाल किया था। बाद में दोनों की बातचीत में मैक्कलम जुड़े।

इसमें शामिल कुछ लोगों ने जाहिर तौर पर पोस्ट को हटा दिया है, लेकिन उनके बातचीत का स्क्रीनशॉट पहले ही सामने आ चुका है।

रिपोर्ट के अनुसार, केकेआर के सीईओ वेंकी मैसूर ने कहा, इस समय टिप्पणी करने के लिए इसके बारे में हम ज्यादा नहीं जानते।

किसी भी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले सभी तथ्यों को जानने की प्रक्रिया को पूरा करें। केकेआर किसी भी भेदभाव के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाएगा।

एक रिपोर्ट में इंग्लैंड के खिलाड़ियों की ट्विटर टिप्पणियों पर कहा गया,इन ट्वीट के सटीक संदर्भ पर हालांकि सवालिया निशान लगा है, लेकिन ये उस समय में लिखे गए जबकि बटलर और मॉर्गन इंग्लैंड के स्थापित खिलाड़ी बन चुके थे और सोशल मीडिया पर अपराध किया है।

इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने मामले में जांच के आदेश दिए हैं। हाल में ही इंग्लैंड बोर्ड ने ओली रॉबिन्सन को आपत्तिजनक ट्वीट के चलते इंटरनेशनल क्रिकेट से निलंबित कर दिया है।

दो दिन पहले ही ईसीबी ने मामले में एक बयान जारी कर कहा था कि हम ओली रॉबिन्सन के मामले के बाद सतर्क हो गए हैं।

इस कारण अतीत में कई और खिलाड़ियों द्वारा किए गए विवादित पोस्ट जिस पर सार्वनजिक रूप से सवाल खड़े किए गए हैं, उस पर भी हमारी नजर है।

हमारे खेल में भेदभाव की कोई जगह नहीं है। हम जरूरी कदम उठाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। ये सिर्फ एक केस से जुड़ा मामला नहीं है। हर केस को अलग तरीके से देखा जाएगा। सभी तथ्यों के आंकलन के बाद आगे की कार्रवाई होगी।

Back to top button