श्रीलंका के नए कप्तान ने कहा- बिना सीनियर्स के भारत के खिलाफ सीरीज बड़ी चुनौती

कोलंबो: श्रीलंका के नवनियुक्त वनडे कप्तान दशुन शनाका ने कहा कि भारत के साथ सीरीज सीनियर खिलाड़ियों के बिना एक बड़ी चुनौती होगी।

पिछले हफ्ते कंधे की चोट के कारण कुसल परेरा को बाहर हो जाने के बाद ऑलराउंडर शनाका को कमान सौंपी गई है।

देश का क्रिकेट इतिहास के सबसे कठिन दौर में से एक से गुजर रहा है क्योंकि उसे कुछ बड़े नामों के बिना मौजूदा मजबूत भारतीय टीम का सामना करना है।

इन खिलाड़ियों में अंजेलो मैथ्यूज, दिनेश चांदीमल और दिमुथ करुणारत्ने प्रमुख हैं।

श्रीलंका क्रिकेट ने शीर्ष क्रम के तीन बल्लेबाजों कुशाल मेंडिस, निरोशन डिकवेला और धनुष्का गुणथिलाका को भी अपनी पिछली सीरीज के दौरान इंग्लैंड में कोविड -19 बायो बबल का उल्लंघन करने के लिए निलंबित कर दिया है।

मौजूदा टीम में शामिल शेष अनुभवी खिलाड़ियों में अविष्का फर्नांडो, धनंजय डिसिल्वा और इसिरु उदाना हैं।

हालांकि शनाका ने कहा कि दोनों टीमें समान रूप से शुरूआत करेंगी क्योंकि दोनों सीनियर्स को मिस कर रहे हैं क्योंकि कुछ भारतीय खिलाड़ी भी इंग्लैंड में हैं।

उन्होंने कहा, हम जानते हैं कि श्रीलंका आए कुछ भारतीय खिलाड़ी आईपीएल में खेले हैं, लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नहीं। इसलिए दोनों टीमों के पास मौके भी होंगे।

हालांकि शनाका ने कहा कि हालांकि जीत पर उनका नियंत्रण नहीं है, लेकिन उन्हें भरोसा है कि उनकी टीम अच्छी लड़ाई दे सकती है।

शनाका ने मीडिया से यह भी कहा कि टीम को दुनिया की शीर्ष टीमों में से एक भारत के खिलाफ खेलने से अच्छा अनुभव मिल सकता है।

उन्होंने कहा, इस स्तर पर भारत के खिलाफ खेलना बहुत अच्छा होगा क्योंकि हम ठीक से माप सकते हैं कि हम कहां हैं।

भारत और श्रीलंका 18-28 जुलाई के बीच तीन टी20 मैच और तीन वनडे मैच खेलेंगे।

श्रीलंका की टीम में दासुन शनाका (कप्तान), धनंजया डी सिल्वा, अविष्का फर्नांडो, भानुका राजपक्षे, पथुम निसंका, चरित असलंका, वनिन्दु हसरंगा, आशेन बंडारा, मिनोड भानुका, लाहिरु उदारा, रमेश मेंडिस, चमिका करुणारत्ने, दुष्मंथा चमीरा, लक्षण संदाकन, अकिला धनंजय, शिरन फर्नांडो, धनंजय लक्षन, ईशान जयरत्ने, प्रवीण जयविक्रेमा, असिथा फर्नांडो, कसुन रजिथा, लाहिरु कुमारा, इसुरु उदाना, बिनुरा फर्नांडो (सिर्फ टी20) शामिल हैं।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button