टेस्ट मैच के दौरान इस क्रिकेटर ने लिया संन्यास

हरारे: बांग्लादेश के हरफनमौला खिलाड़ी महमुदुल्लाह ने जिम्बाब्वे के खिलाफ चल रहे एकमात्र टेस्ट मैच के दौरान क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारुप से संन्यास की घोषणा की है।

ईएसपीएनक्रिकइंफो की एक रिपोर्ट के अनुसार, महमुदुल्लाह ने जिम्बाब्वे के खिलाफ चल रहे एकतरफा टेस्ट के तीसरे दिन के खेल की समाप्ति के तुरंत बाद यह घोषणा की।

महमुदुल्लाह का फैसला बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के अध्यक्ष नजमुल हसन को पसंद नहीं आया, जिन्होंने कहा कि मैच के बीच में ऑलराउंडर की घोषणा से टीम पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

हसन ने कहा कि महमूदुल्लाह का फैसला “असामान्य” था क्योंकि मैच अभी खत्म नहीं हुआ है।

ईएसपीएनक्रिकइन्फो की रिपोर्ट के अनुसार हसन ने कहा, “मुझे आधिकारिक तौर पर सूचित नहीं किया गया है, लेकिन किसी ने मुझे फोन पर कहा कि महमूदुल्लाह अब टेस्ट नहीं खेलना चाहता।”

उन्होंने कहा,”जाहिर है, उन्होंने ड्रेसिंग रूम को बताया। मुझे लगता है कि यह बहुत ही असामान्य है, क्योंकि मैच अभी भी खत्म नहीं हुआ है। इस तरह की घोषणा से टीम पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। यह अस्वीकार्य है। अगर कोई खेलना नहीं चाहता है तो कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन सीरीज के बीच में गड़बड़ी पैदा करने की जरूरत नहीं है।”

मौजूदा एकमात्र टेस्ट महमुदुल्लाह का खेल के सबसे लंबे प्रारूप में 50वां मैच है। इस ऑलराउंडर ने बांग्लादेश की पहली पारी में शानदार शतक लगाकर बांग्लादेश को मुश्किल स्थिति से बचाया।

बांग्लादेश ने इस मैच में महमुदुल्लाह के बेहतरीन नाबाद शतकीय पारी (नाबाद 150) की बदौलत पहली पारी में 468 रन बनाए,जवाब में जिम्बाब्वे के पहली पारी 276 रनों पर सिमट गई।

बांग्लादेश ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने पर दूसरी पारी में बिना कोई विकेट खोए 45 रन बना लिए हैं और टीम की कुल बढ़त 237 रनों की हो गई है।

इस टेस्ट के लिए महमूदुल्लाह को आखिरी मिनट में बांग्लादेश की टीम में शामिल किया गया था।

बांग्लादेश के हरफनमौला खिलाड़ी महमुदुल्लाह ने जिम्बाब्वे के खिलाफ चल रहे एकमात्र टेस्ट मैच के दौरान क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारुप से संन्यास की घोषणा की है।

ईएसपीएनक्रिकइंफो की एक रिपोर्ट के अनुसार, महमुदुल्लाह ने जिम्बाब्वे के खिलाफ चल रहे एकतरफा टेस्ट के तीसरे दिन के खेल की समाप्ति के तुरंत बाद यह घोषणा की।

महमुदुल्लाह का फैसला बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) के अध्यक्ष नजमुल हसन को पसंद नहीं आया, जिन्होंने कहा कि मैच के बीच में ऑलराउंडर की घोषणा से टीम पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

हसन ने कहा कि महमूदुल्लाह का फैसला “असामान्य” था क्योंकि मैच अभी खत्म नहीं हुआ है।

ईएसपीएनक्रिकइन्फो की रिपोर्ट के अनुसार हसन ने कहा, “मुझे आधिकारिक तौर पर सूचित नहीं किया गया है, लेकिन किसी ने मुझे फोन पर कहा कि महमूदुल्लाह अब टेस्ट नहीं खेलना चाहता।”

उन्होंने कहा,”जाहिर है, उन्होंने ड्रेसिंग रूम को बताया। मुझे लगता है कि यह बहुत ही असामान्य है, क्योंकि मैच अभी भी खत्म नहीं हुआ है।

इस तरह की घोषणा से टीम पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। यह अस्वीकार्य है। अगर कोई खेलना नहीं चाहता है तो कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन सीरीज के बीच में गड़बड़ी पैदा करने की जरूरत नहीं है।”

मौजूदा एकमात्र टेस्ट महमुदुल्लाह का खेल के सबसे लंबे प्रारूप में 50वां मैच है। इस ऑलराउंडर ने बांग्लादेश की पहली पारी में शानदार शतक लगाकर बांग्लादेश को मुश्किल स्थिति से बचाया।

बांग्लादेश ने इस मैच में महमुदुल्लाह के बेहतरीन नाबाद शतकीय पारी (नाबाद 150) की बदौलत पहली पारी में 468 रन बनाए,जवाब में जिम्बाब्वे के पहली पारी 276 रनों पर सिमट गई।

बांग्लादेश ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने पर दूसरी पारी में बिना कोई विकेट खोए 45 रन बना लिए हैं और टीम की कुल बढ़त 237 रनों की हो गई है।

इस टेस्ट के लिए महमूदुल्लाह को आखिरी मिनट में बांग्लादेश की टीम में शामिल किया गया था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button