विदेश

Britain की महारानी ने संसद के राजकीय उद्घाटन समारोह से नाम लिया वापस

खराब स्वास्थय बताया जा रहा वजह

News groupe Whatsapp

लंदन: बकिंघम पैलेस ने घोषणा की है कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने संसद के राजकीय उद्घाटन से अपना नाम वापस ले लिया हैं। इसके पीछे की वजह उनका खराब स्वास्थय बताया जा रहा है।

बीबीसी ने सोमवार देर रात पैलेस के हवाले से बताया कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की जगह प्रिंस चार्ल्स मंगलवार को भाषण देंगे।सोमवार शाम तक, बकिंघम पैलेस महारानी के उपस्थित को लेकर उम्मीद जता रहा था।

डॉक्टरों के परामर्श के चलते राज्य के उद्घाटन समारोह नाम वापस लिया

लेकिन बाद में एक बयान में, इसने पुष्टि की गई कि रानी ने अपने डॉक्टरों के परामर्श के चलते राज्य के उद्घाटन समारोह से अपना नाम वापस ले लिया है।

1963 के बाद यह पहला मौका है जब महारानी एलिजाबेथ द्वितीय वेस्टमिंस्टर में इस संवैधानिक समारोह से चूकेंगी।बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, वह अपने 70 साल के शासनकाल में केवल दो बार भाषण देने से चूकी थीं।

1959 और 1963 में गर्भवती होने के कारण वह भाषण नहीं दे पाइर्ं थी।संसद का राज्य उद्घाटन संसदीय वर्ष की शुरूआत का प्रतीक माना जाता है।

इस दौरान महारानी द्वारा दिया गया भाषण सरकार के एजेंडे और उन कानूनों को निर्धारित करता है, जिन्हें वह पेश करना चाहती है।डाउनिंग स्ट्रीट के एक प्रवक्ता ने कहा, प्रधानमंत्री पूरी तरह से महामहिम की इच्छाओं का सम्मान करते हैं और उनकी ओर से भाषण देने पर सहमत होने के लिए प्रिंस ऑफ वेल्स का आभार।