भारत

बालाघाट पुलिस मुठभेड़ में 57 लाख के तीन इनामी नक्सलियों को किया ढेर

बालाघाट: नक्सल विरोधी अभियान के तहत हॉक फोर्स (Hawk Force) के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) को तीन इनामी नक्सलियों को मारने में सफलता मिली है।

सोमवार को जिले के थाना बहेला क्षेत्रांतर्गत ग्राम खराड़ी की पहाड़ियों के जंगल में मुठभेड़ में एसओजी ने एक महिला सहित तीन नक्सलियों को मार गिराया है।

मारे गए नक्सलियों पर 57 लाख रुपये का इनाम था। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने मुठभेड़ में शामिल पुलिस टीम को ऑउट ऑफ टर्न प्रमोशन और गैलेंट्री अवार्ड देने का ऐलान किया है।

सोमवार को पुलिस महानिरीक्षक (नक्सल विरोधी अभियान) फरीद शापू ने बताया कि 20 जून को थाना बहेला क्षेत्रांतर्गत ग्राम खराड़ी की पहाडियों के जंगल क्षेत्र में वर्दीधारी नक्सलियों की उपस्थिति की सूचना प्राप्त मिली थी।

इस पर स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप हॉक फोर्स ने सोमवार सुबह पांच बजे जंगल क्षेत्र में घेराबंदी की। पुलिस को देखकर नक्सलियों ने अंधाधुंध फायरिंग (Firing) कर दी।

पुलिस पार्टी ने आत्मरक्षार्थ जवाबी फायरिंग की गई। इस मुठभेड़ के दौरान दोनों ओर से लगभग 45 मिनट फायरिंग हुई।

इस मुठभेड़ में SOG ने तीन इनामी नक्सलियों को मार गिराया है। इसमें दो पुरुष तथा एक महिला नक्सली शामिल है।

उन्होंने बताया कि मारे गए एक वर्दीधारी पुरुष नक्सली की पहचान जीआरबी डिवीजन के डीवीसीएम (डिवीजन कमेटी मेम्बर) एवं कमांडर नागेश उर्फ राजू तुलावी उम्र लगभग 40 वर्ष निवासी बोटेझरी थाना ग्येराहपत्ती जिला गढ़चिरौली, महाराष्ट्र के रूप में हुई है।

नागेश पर मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ शासन ने संयुक्त रूप से 29 लाख का इनाम घोषित कर रखा था।

आईजी ने बतायाकि अन्य दोनों नक्सलियों की शिनाख्त मनोज उम्र लगभग 25 वर्ष, निवासी पश्चिम बस्तर छत्तीसगढ़ तथा महिला नक्सली रामे उम्र लगभग 23 वर्ष निवासी कोरसागुडेम, जगरगुण्डा, जिला सुकमा छत्तीसगढ़ के रूप में हुई। दोनों नक्सली जीआरवी डिवीजन के टांडा एरिया कमेटी मेम्बर थे।

इन दोनों नक्सलियों पर मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र तथा छत्तीसगढ़ शासन ने संयुक्त रूप से 14-14 लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था।

पुलिस ने तीनों नक्सलियों के शव के पास से एक एके-47, एक थ्री-नॉट-थ्री रायफल, एक रिवाल्वर, एक 315 सिंगल शॉट रायफल, कॉम्बेट पाउचेस और पिट्ठू बैग बरामद किये हैं।

साथ ही दो वायरलैस सेट, एक जीपीएस ट्रेकर, डेटोनेटर्स, एक कूकर बम एवं दैनिक उपयोग की सामग्री व अन्य नक्सल सामग्री भी बरामद हुई है। इन तीनों नक्सलियों पर मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र तथा छत्तीसगढ में कई आपराधिक प्रकरण दर्ज हैं।

मुठभेड़ में शामिल पुलिस टीम को मिलेगा ऑउट ऑफ टर्न प्रमोशन : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बालाघाट जिले में सोमवार को महिला कमांडर समेत तीन नक्सलियों को मुठभेड़ में मार गिराने वाली टीम की सराहना की है।

उन्होंने घोषणा की है कि जान पर खेलकर नक्सलियों को मार गिराने वाले पुलिसकर्मियों को ऑउट ऑफ टर्न प्रमोशन और गैलेंट्री अवार्ड दिया जाएगा

मुख्यमंत्री चौहान ने सोमवार को ट्वीट के माध्यम से कहा कि मध्यप्रदेश शांति का टापू है और इसकी शांति भंग करने की इजाजत किसी को नहीं है, चाहे वह नक्सली (Naxalite) हो या कोई अपराधी।