अमेरिका में सेना के 40 प्रतिशत जवान कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाना चाहते

वाशिंगटन: इन दिनों ओमिक्रोन दुनियाभर में छाया हुआ है। अमेरिका में ओमिक्रोन के मामले सबसे ज्यादा दर्ज हुए है।

इस बीच अमेरिका के टेक्सास के अधिकारियों का बड़ा बयान सामने आया है। बताया जा रहा है कि, अमेरिका के नेशनल गार्ड के हजारों सदस्य कोरोना टीके लेने से इनकार कर रहे है।

बाइडेन प्रशासन ने आदेश दिया है कि, सेना के सभी सदस्यों को टीके लगाना अनिवार्य है और इसी आदेश को लेकर अब अदालत में चुनौती दी गई है।

सेना के सदस्यों के लिए वैक्सीनेशन अनिवार्य करने को लेकर ट्रंप की समर्थक पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ने जमकर विरोध किया है। इस विरोध के बीच अब याचिका बी दायर कर दी गई है।

बता दें कि, नेशनल गार्ड के टेक्सास में 20,000 से अधिक सदस्य हैं।यह किसी भी राज्य में तैनात होने वाली सबसे बड़ी टुकड़ी है।

पूर्वी टेक्सास की संघीय अदालत में दायर मुकदमे के अनुसार, आर्मी नेशनल गार्ड के तकरीबन 40 फीसदी सदस्य धार्मिक और कई अन्य कारणों का हवाला देकर कोरोना का वैक्सीन नहीं लगवाना चाहते हैं।

टेक्सास गार्ड के 200 से अधिक एयरमैन भी टीका नहीं लगवाना चाहते हैं। वहीं सेना के सभी सदस्यों के लिए टीका अनिवार्य करने वाले अमेरिका के रक्षामंत्री लॉयड ऑस्टिन को भी कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच लोगों से नियमों का पालन करने की अपील की।

मंगलवार को अमेरिका में कोरोना के 10 लाख से अधिक मामले दर्ज किए गए। कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रोन से निपटने के लिए प्रशासन से लागातार बात कर रही है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button