झारखंड

किसान संगठनों के भारत बंद का खूंटी में दिखा मिला-जुला असर, कांग्रेस का सपोर्ट…

किसान संगठनों द्वारा आहूत भारत बंद (Bharat Bandh) के समर्थन में जिला कांग्रेस कमेटी खूंटी (Khunti) द्वारा की गई खूंटी बंदी का शुक्रवार को मिलाजुला असर रहा।

Congress in Support of Farmer’s Protest: किसान संगठनों द्वारा आहूत भारत बंद (Bharat Bandh) के समर्थन में जिला कांग्रेस कमेटी खूंटी (Khunti) द्वारा की गई खूंटी बंदी का शुक्रवार को मिलाजुला असर रहा।

बंद के समर्थन में पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा और कांग्रेस जिलाध्यक्ष रवि मिश्रा की अगुवाई में दर्जन भर कांग्रेस कार्यकर्ता सुबह लगभग 8.30 बजे पार्टी का झंडा आदि लेकर सड़क पर उतरे और व्यवसायियों से अपनी अपनी दुकान बंद रखने की अपील की।

बाद में बंद समर्थक भगत सिंह चौक के समीप वाहनों को आड़ी तिरछी खड़ी कर मुख्य सड़क को जाम कर दिया और सड़क पर सभी कांग्रेसी धरने में बैठ गए। सड़क जाम होने पर सड़क के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गई।

सड़क जाम की सूचना मिलते ही SDO अनिकेत सचान, SDPO वरूण रजक, अंचलाधिकारी जया शंखी मुर्मू, थाना प्रभारी मोहन कुमार अन्य पुलिस अधिकारी एवं जवानों के साथ मौके पर पहुंचे और सड़क पर आड़ी तिरछी खड़ा किये गये वाहनों को हटवाकर सड़क जाम समाप्त कराया।

दूसरी ओर सड़क पर बंद समर्थकों के उतरने से मेन रोड में दुकान खोलने आए दुकानदारों में ऊहापोह की स्थिति उत्पन्न हो गई। इस स्थिति में दुकानदार अपनी दुकानों को न खोलकर मामले को समझने लगे। बाद में सुबह लगभग पौने 10 बजे सड़क पर बैठे कांग्रेसी उठे और जुलूस के रूप में खूंटी थाना जाकर वहां सामूहिक रूप से अपनी गिरफ्तारी दी।

सड़क से कांग्रेसियों के उठने के बाद धीरे-धीरे सभी दुकानें खुल गई और पूरा माहौल सामान्य हो गया। बंद के समर्थन में सड़क पर उतरे कांग्रेसियों में पूर्व विधायक एवं कांग्रेस जिलाध्यक्ष के अलावा जिला महासचिव रविकांत मिश्रा, यूथ कांग्रेस के कार्यकारी जिलाध्यक्ष अरुण सांगा, Sushil Sanga, सयूम अंसारी, विल्सन टोपनो, Devjit Deogharia, वेद प्रकाश मिश्रा, गुलाम गौस, जुनैद अहमद, पॉल भेंगरा, एडवर्ड हंस, सुनीता गोप, फिरोज आलम, Shashikant Horo, विक्की स्वांसी आदि शामिल थे। जिला मुख्यालय के अलावा तोरपा, मुरहू, अड़की, रनिया और कर्रा में बंद पूरी तरह विफल रहा। आम दिनों की तरह वाहनों का परिचालन हुआ और दुकानें भी खुली रहीं।

x