रामगढ़ के रामनवमी जुलूस में नहीं बजेगा DJ, पकड़े जाने पर …..

News Aroma Desk

DJ Ban In Ram Navmi : रामगढ़ (Ramgarh) जिले के मांडू (Mandu) प्रखंड अंतर्गत दिग्वार पोचरा गांव (Pochara Village) में शांति व्यवस्था भंग करने की कोई कोशिश के बाद रामगढ़ (Ramgarh) जिला प्रशासन ने हाई अलर्ट (High Alert) जारी कर दिया है।

सोमवार को DC चंदन कुमार और SP डॉ बिमल कुमार ने संयुक्त रूप से जिला शांति सह निगरानी समिति की बैठक (Meeting) बुलाई।

इस दौरान उन्होंने रामनवमी जुलूस (Ramnavmi Julus) में DJ को पूरी तरीके से प्रतिबंधित कर दिया है। DC ने कहा कि पुलिस पदाधिकारी, अंचल अधिकारी और प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने क्षेत्र के सभी पूजा समितियों और अखाड़ों के पदाधिकारी से संपर्क कर उन्हें इसकी सूचना दें।

जुलूस में कोई DJ पकड़ा गया तो आदर्श आचार संहिता (Model Code of Conduct) खत्म होने तक उसे छोड़ा नहीं जाएगा।

ड्रोन से रखी जाएगी कड़ी नजर

DC चंदन कुमार ने स्पष्ट कर दिया कि कोई भी शांति व्यवस्था को भंग करने की कोशिश करेगा तो उस पर कार्रवाई निश्चित तौर पर होगी। जिले में फोर्स (Force) और मजिस्ट्रेट (Magistrate) की कमी नहीं है। सबसे बड़ी बात की तीसरी आंख सब पर नजर रखेगी।

पूजा समितियां के द्वारा कैमरामैन (Cameraman) तो रखा गया है, लेकिन हर थाना को एक ड्रोन (Drone) उपलब्ध कराया गया है। Drone से घरों और छतों का मुआयना होगा। जिस रास्ते से जुलूस निकालने वाला है उस पूरे रास्ते पर कहीं भी ऐसा नहीं होगा जिस पर प्रशासन की नजर नहीं होगी।

जुलूस का रास्ता पूरी तरह होना चाहिए साफ

शांति समिति की बैठक में SP डॉ बिमल कुमार ने कहा कि Ramnavmi का त्यौहार शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो इसके लिए पूरा Guideline जारी किया गया है। पूजा कमेटी को SDO कार्यालय से निर्देश दिए जा चुके हैं। सबसे अहम है कि जुलूस का रास्ता पूरी तरीके से साफ होना चाहिए।

रास्ते पर अगर भवन निर्माण से संबंधित कोई सामग्री रखी गई है तो उसे तत्काल हटा लें। जिला पुलिस बल के अलावा CRPF के बटालियन भी रामगढ़ (Ramgarh) में मौजूद है। जुलूस में सुरक्षा के लिए उनका भी प्रयोग किया जाएगा।

SP ने कहा की पूजा समिति अपने क्षेत्र में रोशनी के पुख्ता इंतजाम करें। जुलूस के समय विद्युत आपूर्ति बंद कर दी जाएगी। उन्होंने इस बात पर भी जोर डाला की कोई भी भ्रामक सूचना न फैलाएं।अगर कहीं कोई घटना घटती है तो उसकी सही सूचना प्रशासन को दें।

थाना प्रभारी रखें समिति और अखाड़ा के 10 लोगों का नंबर

बैठक में SDO आशीष गंगवार ने कहा कि किसी भी विषम परिस्थिति में कमेटी के पदाधिकारी से संपर्क करना मुश्किल हो जाता है। इसलिए हर समिति और अखाड़े के 10 लोगों का नंबर थाना प्रभारी अपने पास रखें।

अगर किसी को कोई सूचना देनी हो या कहीं कुछ वारदात हो तो समिति के पदाधिकारी से सबसे पहले संपर्क हो सके और समस्या के निवारण के लिए प्रयास किया जा सके।

SDO ने कहा कि जुलूस में किसी की भी धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने का काम नहीं करना है। अगर जुलूस किसी धार्मिक स्थल से होकर गुजरती है तो वहां भी मर्यादा में ही रहे।

आदर्श आचार संहिता लागू है और अगर इस दौरान किसी कानून का उल्लंघन होता है तो कार्रवाई निश्चित तौर पर होगी।

हमें Follow करें!