फिल्मी अंदाज में दिखे अभिनेता रवि किशन, सपा-बसपा-कांग्रेस को घेरा

उप्र के चुनाव में अहम भूमिका निभाता है ब्राह्मण

मीरजापुर: भोजपुरी-बालीवुड फिल्म अभिनेता व गोरखपुर के सांसद रवि किशन ने सोमवार को विंध्यधाम पहुंचकर मां विंध्यासिनी के चरणों में शीश नवाया। इससे पहले उन्होंने वाराणसी में काशी विश्वनाथ का दर्शन-पूजन किया।

काशी विश्वनाथ के दर्शन-पूजन के बाद वे सीधे मां विंध्यवासिनी के दर पर पहुंचे।

सांसद ने मां विंध्यवासिनी का विधिवत पूजन-अर्चन कर विश्व कल्याण की कामना की।

मां विंध्यवासिनी का दर्शन-पूजन करने के बाद मंदिर परिसर पर विराजमान समस्त देवी-देवताओं को नमन किया।

तीर्थ पुरोहित बड़े श्रृंगारिया विश्वमोहन उर्फ शिवजी मिश्रा ने दर्शन-पूजन कराया।

बहन मायावती, अखिलेश यादव व राहुल गांधी ब्राह्मण कार्ड खेलना बंद करें

दर्शन-पूजन के बाद सांसद रवि किशन ने मीडिया से बात करते हुए सपा-बसपा-कांग्रेस को ब्राह्मण सम्मेलन के लिए जमकर घेरा। कहा कि मैं हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं बहन मायावती, अखिलेश यादव व राहुल गांधी ब्राह्मण कार्ड खेलना बंद कर दें।

राहुल गांधी से कहा कि जब कांग्रेस की सरकार सत्तर साल तक थी, तब ब्राह्मण को क्या-क्या सुविधाएं दी गई? ब्राह्मण बच्चों के लिए क्या किया? केंद्र व राज्य सरकार बनाने में उत्तर प्रदेश के चुनाव में ब्राह्मण अहम भूमिका निभाता है। उत्तर प्रदेश में 13 प्रतिशत ब्राह्मण हैं। शायद इसलिए अचानक ब्राह्मण प्रेम चुनाव आते ही शुरू हो गया।

मायावती व अखिलेश ब्राह्मणों को लालच का झुनझुना न दें

रवि किशन बोले, अखिलेश यादव कहते हैं कि हर जिले में परशुराम की मूर्ति बनाएंगे। वहीं बहन मायावती भी कह रही हैं कि ब्राह्मणों पर अत्याचार हो रहा है।

फिल्मी अंदाज में दिखे अभिनेता रवि किशन, सपा-बसपा-कांग्रेस को घेरा

पहली बात तो आप लोग जान लें कि ब्राह्मण होता क्या है। ब्राह्मण नि:स्वार्थ, त्यागी, राष्ट्र भक्त होता है। ब्राह्मण विकास में यकीन रखता है।

ब्राह्मण अपनी फटी हुई धोती और एक जनेऊ में जीवन निकाल सकता है। ब्राह्मण धर्म का प्रचार-प्रसार करता है।

ब्राह्मण लालची नहीं है। मायावती व अखिलेश ब्राह्मणों को लालच का झुनझुना न दें। हम सभी राष्ट्र भक्त हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जनता को पूरा यकीन है। ब्राह्मण उनके साथ है, साथ रहेगा।

राष्ट्र के साथ जो भी सरकार रहेगी या राष्ट्र का भला सोचेगी, उसके साथ ब्राह्मण रहेगा।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button