झारखंड

पलामू प्रमंडलीय आयुक्त जटा शंकर चौधरी और गुमला DC का बनाया फेक व्हाट्सएप एकाउंट

मोबाइल नंबर 7814321172 का इस्तेमाल किया गया है

मेदिनीनगर: प्रमंडलीय आयुक्त जटा शंकर चौधरी (Jata Shankar Choudhary) के नाम पर फर्जी व्हाट्सएप एकाउंट बनाने का मामला रविवार को सामने आया है।

फर्जी व्हाट्सएप अकाउंट में मोबाइल नंबर 7814321172 का इस्तेमाल किया गया है। एकाउंट के प्रोफाइल फोटो में पलामू (Palamu) के प्रमंडलीय आयुक्त जटाशंकर चौधरी की तस्वीर लगी है।

इस फर्जी एकाउंट (Fake Account) के जरिये पलामू प्रमंडल क्षेत्र के कई अधिकारियों को फोन और मैसेज किया जा रहा है। फर्जी एकाउंट बनाने वाले व्यक्ति के संबंध में पता लगाया जा रहा है।

आयुक्त जटाशंकर चौधरी ने रविवार को SP को इसकी सूचना देते हुए फेक एकाउंट बनाने वाले व्यक्ति के खिलाफ सख्त कार्रवाई का निदेश दिया है। इधर, स्थानीय पुलिस प्रशासन तत्परता दिखाते हुए छानबीन में जुट गयी है।

आयुक्त ने प्रमंडल क्षेत्र सहित राज्य एवं देश के अधिकारियों, कर्मियों और उन्हें जानने वाले लोगों से अपील करते हुए कहा है कि उनके नाम पर मोबाइल नंबर 7814321172 से फोन या मैसेज आने पर उसका जवाब नहीं दें, बल्कि इसकी सूचना स्थानीय पुलिस प्रशासन को दें, ताकि साईबर क्राइम (Cyber Crime) में लिप्त लोगों की पहचान कर उनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जा सके।

प्रोफाइल में लगी थी उपायुक्त की तस्वीर

इधर, गुमला उपायुक्त ने अपने ट्विटर हैंडल (Twitter handle) से भी जानकारी दी है कि मोबाइल नंबर 7814321172 से ही उपायुक्त गुमला की फेक ID  बनाकर जिले के कतिपय अधिकारियों और कर्मियों को फोन एवं मैसेज किया जा रहा है, उन्होंने भी अपील किया है कि कृपया इस नंबर को रिप्लाई ना करें।

इस मामले में आगे की करवाई की जा रही है। यानी एक नंबर से ही आयुक्त और गुमला उपायुक्त के नाम से फेक व्हाट्सएप एकाउंट बनाया गया है।

गौरतलब है कि 2 दिन पहले भी पलामू उपायुक्त का फर्जी व्हाट्सएप एकाउंट (Fake whatsapp account) किसी दूसरे व्यक्ति का नंबर इस्तेमाल कर बनाया गया था, जबकि एकाउंट के प्रोफाइल फोटो में पलामू उपायुक्त की तस्वीर लगी थी।

साइबर क्राइम (Cyber Crime) में लिप्त ऐसे अपराधियों की पहचान के लिए पुलिस प्रशासन सक्रियता से कार्य कर रही है।