झारखंड में यहां शौच करने निकले युवक को निगल गयी जमीन, एक बच्चे की वजह से बची जान

धनबाद : केंदुआडीह थाना क्षेत्र के गंसाडीह तीन नंबर में रविवार को अचानक हुए भू-धंसान में उमेश पासवान (18) जमीन में समा गया। गनीमत रही कि पास से गुजर रहे एक बच्चे की नजर उस पर पड़ गयी और उसे बाहर निकाल लिया गया।

फिलहाल युवक को बेहतर इलाज के लिए बोकारो जेनरल हॉस्पिटल (बीजीएच) में भर्ती किया गया है, जहां उसकी हालत नाजुक बतायी जा रही है।

घटना केंदुआडीह यूसीसी इन्फ्रा आउटसोर्सिंग के बगल की है। बताया जा रहा है कि सुबह उमेश शौच के लिए अपने घर से निकला था।

इसी दौरान अचानक उसके पांव के नीचे की जमीन तेज आवाज के साथ फट गयी और उमेश उसमें समा गया।

जमीन में समाये उमेश के हाथ की उंगली जमीन के ऊपर से दिखाई दे रही थी, जिसे वहां से गुजर रहे एक बच्चे ने देख लाया। इसके बाद बच्चे ने शोर मचाकर लोगों को इसकी जानकारी दी।

इसके बाद स्थानीय लोगों ने उमेश को खींचकर जमीन से बाहर निकाला। लोग उसे तत्काल बेहतर इलाज के लिए बीजीएच ले गये।

गोफ में गिरने के कारण उमेश पासवान 90 फीसदी तक जल चुका है। उसके तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं। इस घटना से स्थानीय लोगों में बीसीसीएल प्रबंधक के प्रति काफी नाराजगी दिखाई दे रही है।

बता दें कि बीसीसीएल के गोधर प्रबंधक ने इलाके को पूर्व में ही अग्नि प्रभावित भू-धंसान क्षेत्र घोषित कर दिया है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button