झारखंड : यहां अचानक मची भगदड़, भीड़ ने वृद्ध को लाठी डंडे से पीट-पीटकर मार डाला

खूंटी: कर्रा थाना क्षेत्र के मुटपा गांव में रविवार दोपहर जमीन विवाद में मारपीट के दौरान मची भगदड़ में एक व्यक्ति की मौत हो गयी।

जानकारी के अनुसार कर्रा थाना क्षेत्र के मुटपा गांव में भूमि विवाद को लेकर वृद्ध भोला उरांव (60वर्ष) को भीड़ ने लाठी डंडे से पीट-पीटकर मार डाला।

घटना रविवार को दिन के साढ़े 12 बजे की है। मृतक रांची जिले के नामकुम थाना क्षेत्र के तुंजू गांव का निवासी था।

इस हत्याकांड के मामले में मुटपा गांव के सात लोगों रमेश मुंडा, महावीर मुंडा, फौदा मुंडा, सुखू मुंडा, बिरसा मुंडा, सावना मुंडा और बिरसा धान के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसके अतिरिक्त 50-60 अज्ञात लोगों को भी आरोपी बनाया गया है।

इस संबंध में पुलिस को दिए बयान में मृतक भोला उरांव का भतीजा अनिल कच्छप ने बताया है कि उसके चाचा रविवार को 50-60 मजदूर लेकर मुटपा गांव में संपत कुमार तिवारी की जमीन पर काम करने गए थे।

संपत कुमार तिवारी चट्टी, भंडरा, लोहरदगा के निवासी हैं। चाचा मजदूरों से काम शुरू कराने जा रहे थे कि गांव से 60-70 की संख्या में लोगों की भीड़ पहुंची।

सभी हरवे-हथियार से लैस थे। भीड़ में शामिल लोगों के हाथ में टांगी, दौली, तोनो, फरसा और लाठी आदि थे।

भीड़ ने अचानक मजूदरों पर किया हमला

भीड़ ने अचानक मजदूरों पर हमला कर दिया। इसके बाद मजदूर और चाचा भागने लगे। भागने के क्रम में कई लोगों को चोटें भी आई, भागने के क्रम में भीड़ ने भोला उरांव को घेर लिया और लाठी-डंडे से उनकी पिटाई शुरू कर दी।

इससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

घटना की खबर मिलते ही कर्रा व खूंटी पुलिस मुटपा गांव पहुंचकर आक्रोशित लोगों को समझाया-बुझाया और शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल खूंटी भेजा दिया।

इस संबंध में रैयत सम्पत तिवारी ने कर्रा थाने में आठ नामजद व कई अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button