झारखंड : मां-बाप की मर्जी के खिलाफ किया Love Marriage और जब पति शराब के नशे में करने लगा प्रताड़ित तो उठाया यह खौफनाक कदम

अब मामले की जानकारी मिलने पर सदर पुलिस की गश्ती टीम मौके पर पहुंची और युवती को थाने ले गई, जहां से उसे महिला थाने में भेज दिया गया है

धनबाद: आज-कल के युवा मां-बाप की मर्जी के खिलाफ जाकर झूठे प्रेम को ही सच्चा मान लेते हैं और उसे पाने के लिए अपने पेरेंट्स से भी बगावत कर डालते हैं, लेकिन शादी के बाद जब इस झूठे प्रेम की सच्चाई सामने आती है तब तक सबकुछ बर्बाद हो चुका होता है।

और शुरू हो जाती है इंसाफ के लिए थाने व कोर्ट की दौड़। जी हां, सदर थाना क्षेत्र के गांधीनगर में रहने वाली एक युवती के साथ ऐसा ही हुआ, जिसके बाद वह तालाब में कूदकर अपना जान देने चली गई।

वो तो खैर मनाइए कि युवती को तालाब में कूदते हुए स्थानीय लोगों ने देख लिया और उसे तालाब से तुरंत बाहर निकालकर जान बचा ली। अब मामले की जानकारी मिलने पर सदर पुलिस की गश्ती टीम मौके पर पहुंची और युवती को थाने ले गई, जहां से उसे महिला थाने में भेज दिया गया है।

क्या है मामला

युवती के अनुसार 9 जून को उसने हीरापुर में टैटू बनाने वाले सुमित के साथ शादी की थी, लेकिन शादी के बाद से ही वह उसे प्रताड़ित करने लगा। शराब के नशे में देर रात फोन करके उसके चरित्र पर सवाल उठाने लगा। इसकी शिकायत उसने महिला थाने में की थी।

महिला थाने में काउंसलिंग होने के बाद वह अपने मायके चली गई थी, लेकिन पति उसे लेने नहीं आ रहा था। इससे वह परेशान होकर जान देना चाहती थी। हालांकि, समय रहते लोगों ने उसे बचा लिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

लव मैरेज किया था

युवती ने कहा कि वह एक तो पति से परेशान है। वहीं, माता-पिता भी उसे ताना देते हैं। कहते हैं कि प्रेम विवाह (Love Marriage) करने के कारण उनकी इज्जत चली गई।

इस कारण वह तीन दिनों से खाना तक नहीं खाई थी। मायके से ही पंपू तालाब में जान देने पहुंच गई। लेकिन लोगों ने उसे बचा लिया।

तीन दिनों से नहीं खाया खाना

थाना पहुंची युवती की स्थिति काफी खराब थी। वह चल नहीं पा रही थी। थानेदार विनय कुमार के पूछने पर उसने बताया कि तीन दिनों से खाना नहीं खाया है। इसके बाद थाना प्रभारी ने थाने के मेस में युवती को भोजन करवाया और इसके बाद महिला थाने के हवाले कर दिया।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button