झारखंड

जमीन घोटाले में फर्जी मलिक प्रदीप बागची के खिलाफ कोर्ट ने गठित किया आरोप

रांची बरियातू की सेना की कब्जे वाली 4.55 एकड़ जमीन के फर्जी मालिक प्रदीप बागची के खिलाफ PLMA के विशेष न्यायाधीश राजीव रंजन की अदालत में मंगलवार को आरोप गठित किया गया।

Court frames charges against fake owner Pradeep Bagchi : रांची बरियातू की सेना की कब्जे वाली 4.55 एकड़ जमीन के फर्जी मालिक प्रदीप बागची के खिलाफ PLMA के विशेष न्यायाधीश राजीव रंजन की अदालत में मंगलवार को आरोप गठित किया गया।

बागची पर उक्त जमीन की फर्जी आधार कार्ड, बिजली बिल और फर्जी पोजीशनल लेटर (Fake Positional Letter) के आधार पर दो-दो होल्डिंग लेने का आरोप है।

मामले में आठ जुलाई से गवाही शुरू होगी। नगर निगम (Municipal council) के संग्रहकर्ता दिलीप शर्मा ने प्रदीप बागची के खिलाफ बरियातू थाना में फर्जीवाड़ा का केस कांड संख्या 141/2022 के दर्ज कराया था। सेना की कब्जे वाली 4.55 एकड़ जमीन का फर्जी रैयत प्रदीप बागची बना था।

फर्जी दस्तावेज के आधार पर प्रदीप बागची ने जगत बंधु Tea State Company के दिलीप घोष को सात करोड़ में जमीन बेच दी थी। फर्जी दस्तावेज तैयार करने और खरीद बिक्री करने में सरकारी अधिकारियों की भी मिलीभगत थी।

उल्लेखनीय है कि बरियातू थाना में दर्ज इस केस को ED ने टेकओवर कर ECI 1/2023 दर्ज किया था। मामले को लेकर ED ने 13 और 14 अप्रैल 2023 को रांची पूर्व उपायुक्त छवि रंजन, बड़ंगाई अंचल के उप राजस्व कर्मी भानु प्रताप प्रसाद सहित अन्य जमीन कारोबारियों के ठिकाने पर छापेमारी की थी।

x