Jharkhand : पुल निर्माण के कार्य में लगी एजेंसी का मिक्सर मशीन और जेसीबी जलाने में नक्सलियों के सहयोगी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

गिरिडीह: पुल निर्माण के कार्य में लगी एजेंसी का मिक्सर मशीन और जेसीबी जलाने में नक्सलियों के सहयोगी को गिरिडीह के बिरनी थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

थाना प्रभारी संतोष कुमार ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि आरोपित रवीन्द्र गुप्ता को उसके धर्मपुर गांव स्थित घर से गिरफ्तार किया गया है। रवीन्द्र गुप्ता गांव में खुद का टैक्ट्रर चलवाता है।

थाना प्रभारी के अनुसार टोको धर्मपुर गांव में निर्माणाधीन पुल के कार्य में लगे जिस एजेंसी के मिक्सचर मशीन के साथ जेसीबी को माओवादियों ने जलाया था।

उसकी पूरी जानकारी इस सहयोगी को पहले से था। घटना के बाद बिरनी थाना पुलिस को अनुसंधान के दौरान रवीन्द्र गुप्ता के शामिल होने का संदेह हुआ।

संदेह के आधार पर पुलिस लगातार माओवादी के इस सहयोगी पर नजर रखे हुए थी।

इसी बीच बिरनी थाना पुलिस को रवीन्द्र गुप्ता के पीरटांड के माओवादी कृष्णा हांसदा के दस्ते से संपर्क होने का पुख्ता प्रमाण मिलने के बाद पुलिस ने गिरफ्तार किया।

जानकारी के अनुसार रवीन्द्र गुप्ता एजेंसी के कहने पर योजना स्थल में काफी महीनों से बालू समेत कई और समानों की आपूर्ति भी करता रहा था।

इसी क्रम में रवीन्द्र गुप्ता कृष्णा हांसदा के संपर्क में आया। पुलिस के हत्थे चढ़ने के बाद सहयोगी रवीन्द्र गुप्ता ने पूछताछ में सारी बातों को कबूला है।

पूछताछ में सहयोगी ने कबूला कि कृष्णा हांसदा के दस्ते ने लेवी नहीं मिलने के कारण घटना को अंजाम दिया था।

क्योंकि एजेंसी के ठेकेदार से पुल निर्माण के लिए लेवी के रुप में 10 लाख की मांग माओवादी कृष्णा दा के दस्ते ने किया था।

लेकिन लेवी नहीं मिला, तो माओवादियों ने मिक्सचर मशीन के साथ जेसीबी और एक बाईक को आग के हवाले कर दिया था। यही नही योजना स्थल में एजेंसी के मुंशी समेत मजदूरों की पीटाई भी किया था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button