झारखंड

झारखंड : मरवा जंगल में फिर IED ब्लास्ट, अबकी बार ग्रामीण की गई जान

रांची: कुरमगढ़ के सीमावर्ती जंगल मरवा केरागानी में बुधवार को एक बार फिर इप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) विस्फोट हुआ और अबकी बार एक ग्रामीण की मौत हो गई। घटना की पुष्टि गुमला एसपी हरदीप पी जनार्दनन ने की है।

बता दें कि मंगलवार को इसी जंगल में आईईडी विस्फोट हुआ था, जिसमें आईईडी स्पेशलिस्ट बेल्जियन शेफर्ड नस्ल का डॉग द्रोण शहीद हो गया था।

वहीं, डॉग स्क्वॉयड का हैंडलर कोबरा जवान विश्वजीत कुंभकार (28) गंभीर रूप से जख्मी हो गया।

घायल जवान को वायुसेना के हेलीकॉप्टर से रांची लाया गया और मेडिका अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अतिरिक्त पुलिस बल घटनास्थल रवाना, सर्च ऑपरेशन जारी

बुधवार को हुए विस्फोट में मारे गए ग्रामीण की पहचान रामदेव मुंडा के रूप में की गई। इस घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल है।

वहीं, एसपी की अगुवाई में लगातार सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। ग्रामीण सुबह जंगल की ओर जा रहा था।

इसी क्रम में उसका पैर आईईडी बम पर पड़ गया और जोरदार धमाके के साथ ग्रामीण की मौके पर मौत हो गई।

गुमला से अतिरिक्त पुलिस बल को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया है और लगातार सर्च ऑपरेशन जारी है।

15 लाख के ईनामी नक्सली ने बिछा रखा है IED

बताते चलें कि नक्सली संगठन में जोनल कमांडर के पद पर आसीन 15 लाख रुपए का ईनामी नक्सली बुद्धेश्वर उरांव अपनी सुरक्षा के लिए केरागानी व मरवा जंगल समेत कई नक्सल प्रभावित क्षेत्र के जंगलों में जगह-जगह पर आईईडी बम बिछा रखा है। ताकि पुलिस उस तक आसानी से नहीं पहुंच सके।

इसके अलावा नक्सलियों कि यह भी मंशा है कि जब भी पुलिस उनकी टोह में जंगल में प्रवेश करे तो वे आईईडी बम की चपेट में आ जाए।

Back to top button