खूंटी कांग्रेस ने इंदिरा गांधी और सरदार पटेल को किया याद

खूंटी: जिला कांग्रेस कार्यालय में रविवार को देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि और देश के उप प्रधानमंत्री और गृह मंत्री रहे लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती श्रद्धापूर्वक मनाई गई।

दोनों महापुरुषों के चित्र पर माल्यार्पण और पुष्प अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष रामकृष्ण चौधरी ने कहा कि आज हम देश की पूर्व प्रधानमंत्री समाजवाद को संविधान में शामिल कराने वाली, हरित क्रांति की प्रणेता और देश की अखंडता के लिए अपने प्राणों की आहुति देनेवाली इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि बलिदान दिवस के रूप में मना रहे हैं और उनके अधूरे सपनों को साकार कर एक नया भारत बनाएंगे।

उन्होंने सरदार पटेल को याद करते हुए कहा कि प्रखर गांधीवादी, देश की एकता और विभाजन के वक्त 540 देसी रियासतों के विलय के प्रयास और सफलता के लिए कांग्रेस उन्हें शत शत नमन करती है।

पूर्व विधायक कालीचरण मुंडा ने दोनों महानुभावों के योगदान को रेखांकित करते हुए कहा कि एक ने देश की एकता और अखंडता को अक्षुण्ण रखने के लिए अपना सब कुछ कुबान कर दिया, तो दूसरे ने आधुनिक भारत के निर्माण, विवादास्पद मुद्दों पर विजय, आत्मनिर्भरता तथा देश की एकता के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया।

हम उनके आगे नतमस्तक हैं। बाद में कांग्रेस जनों ने इंदिरा गांधी के बलिदान दिवस पर सदर अस्पताल खूंटी में रक्तदान किया। रक्तदान करनेवालों में जॉनसन बाखला, एडवर्ड हंस और अल्बर्ट तिग्गा आदि शामिल हैं।

कार्यक्रम में मन्नान अंसारी, नईमुद्दीन खान, प्रभात चंद्र जायसवाल, पुनीत हेमरोम, फिरोज आलम, चिराग खान, पुरुषोत्तम गंजू ,प्रदीप कुमार देवघरिया, रॉयल बाखला,बसंत, डॉ वीरेंद्र कुमार सोए, शशिकांत होरो, विपिन मांझी, तल्हा खान, विलसन तोपनो, विपिन लुगून, विनायक राय, मसीह भेंगरा, नरेश कुमार कर औरर डॉ अनिल बड़ाईक आदि उपस्थित थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button