बच्चों के लिए प्यार, पढ़ाई और आहार ज़रूरी: शालिनी गुप्ता

कोडरमा: हम सबों को बाल अधिकार के बारे में समझने और उस अनुरूप कार्य की जरूरत है। वहीं, देश के भविष्य यानि बच्चों के बारे में अभी से चिंता करना चाहिए।

अच्छा वातावरण देने के साथ ही बच्चों को अच्छे भविष्य के लिए मार्गदर्शन देने की जरूरत है, बच्चों को पौष्टिक भोजन, पढ़ाई और प्यार जरूरी है।

शनिवार को बाल श्रम उन्मूलन दिवस पर कोडरमा प्रखंड के पारहो स्थित मध्य विद्यालय परिसर में आयोजित फूड न्यूट्रिशन किट वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला परिषद की प्रधान शालिनी गुप्ता ने उक्त बातें कहीं।

कार्यक्रम में कुपोषित बच्चों के लिए न्यूट्रिशन किट का वितरण हुआ तो वहीं, 750 कीट से भरे वाहन को हरी झंडी दिखाकर जिप प्रधान शालिनी गुप्ता ने रवाना किया।

यह वाहन विभिन्न जगहों पर जरूरतमंदों के बीच फूड किट का वितरण करेगा।

जिप प्रधान शालिनी गुप्ता ने कहा कि हैंड इन हैंड इंडिया ने बाल मजदूरी के खिलाफ जिम्मेवारी ली है, यह सराहनीय प्रयास है। इलाके की बेहतरी और अच्छे भविष्य के लिए यह जरूरी है कि बच्चे स्वस्थ हों।

उन्होंने उपस्थित लोगों से कोरोना को लेकर वैक्सिन जरूर लेने तथा अपने परिजनों को वैक्सिन दिलवाने पर बल दिया।

उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए जरूरी है कि अधिक से अधिक लोग टीका लें और कोविड नियमों का पालन करें। कार्यक्रम को स्थानीय मुखिया सिकंदर साव और सीता देवी ने भी संबोधित किया।

इस दौरान जिप प्रधान के साथ सामाजिक कार्यकर्ता संजीव समीर, आजसू पार्टी के जिला उपाध्यक्ष विकास कुमार तथा हैंड इन हैंड इंडिया कोडरमा के रवि रंजन, त्रिलोक कर्ण, रूपेश कुमार, सविता देवी, रुखसार, सविता, शबनम खातून, छात्रधारी, साबिर अंसारी, सुधीर, बसंत, कौशल्या, गायत्री आदि मौजूद थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button