राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने छात्र की पिटाई का संज्ञान लिया, बोकारो DC ने मांगी रिपोर्ट

News Alert

बोकारो : राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने (National Commission for Protection of Child Rights) प्लस टू उच्च विद्यालय, कसमार के एक शिक्षक द्वारा एक छात्र की बेरहमी से की गई पिटाई के मामले में संज्ञान लिया है।

इस संबंध में मानवाधिकार कार्यकर्ता (Human Rights Activist) अनूप कुमार ने बताया कि उन्होंने आयोग में लिखित शिकायत दर्ज कराई थी।

इसी मामले पर आयोग के अध्यक्ष के प्रधान निजी सचिव धर्मेंद्र भंडारी ने बोकारो के उपायुक्त को पत्र देते हुए उनसे स्कूल शिक्षक द्वारा RTI अधिनियम, 2009 की धारा 17 के उल्लंघन के संबंध में रिपोर्ट मांगी है।

छात्र की बेरहमी से की गई पिटाई से ग्रामीणों में भी काफी रोष था

अनूप कुमार ने आयोग को लिखे पत्र में आरोप लगाया है कि स्कूल टीचर ने स्कूल के छात्र राजकुमार को बेरहमी से पीटा( Brutally Beaten) था।

इस संबंध में शिक्षक द्वारा की गई पिटाई का Video Clip का विवरण भी आयोग को उपलब्ध कराया गया है। उन्होंने बताया कि आयोग ने बोकारो DC से अनुरोध किया है कि मामले की जांच सुनिश्चित करें और की गई कार्रवाई की रिपोर्ट भेजें।

उन्होंने कहा कि पत्र जारी होने के 20 दिनों के भीतर आयोग को रिपोर्ट करने को कहा है। गौरतलब है कि छात्र की बेरहमी से की गई पिटाई की घटना को लेकर ग्रामीणों में काफी रोष था।

शिक्षक ने अपने मोबाइल से पिटाई का वीडियो भी बनवाया था

स्कूल के छात्र राजकुमार की एक शिक्षक द्वारा बेरहमी से पिटाई की( Brutally Beaten) गई थी, जिससे उसके हाथ में काफी चोटें आयी थीं।

घटना के दूसरे दिन छात्रों और अभिभावकों ने सड़क जाम कर कार्रवाई की मांग की थी। घटना के संबंध में बताया गया था कि रोज की तरह छात्र राजकुमार अपनी कक्षा में बैठा था।

उक्त शिक्षक ने राजकुमार के अलावा उसी कक्षा के ही अदनान शाहिद, रमजान रजा, वसीम रजा एवं साहिल अहमद की भी पिटाई की गई। और तो और पिटाई के दौरान शिक्षक (Teacher)  ने अपने मोबाइल से छात्र की पिटाई का वीडियो भी बनवाया था।

हमें Follow करें!

x