गैस सिलेंडर से लेकर इनकम टैक्स तक कल से देश में लागू होंगे 6 जरूरी बदलाव

नई दिल्ली: एक जून से देश में कई बदलाव होने जा रहे हैं, जिसका सीधा असर आपके बैंक खाते, पीएफ खाते और इनकम पर पड़ेगा। इसमें गैस सिलेंडर से लेकर इनकम टैक्स तक छह जरूरी बदलाव होने वाले हैं।

बैंक ऑफ बड़ौदा ग्राहकों के लिए 1 जून 2021 से चेक से पेमेंट का तरीका बदलने वाला है।

धोखाधड़ी का शिकार होने से बचाने के लिए बैंक ने ग्राहकों के ​लिए पॉजिटिव पे कन्फर्मेशन अनिवार्य किया है।

बैंक आफ बड़ौदा के अधिकारियों का कहना है कि ग्राहकों को पॉजिटिव पे सिस्टम के तहत चेक की डिटेल्स को तभी रिकन्फर्म करना होगा, जब वे 2 लाख रुपए या इससे ज्यादा के बैंक चेक जारी करेंगे।

एक जून से एलपीजी यानी रसोई गैस सिलेंडर के रेट में भी बदलाव संभव है। अमूमन हर महीने तेल कंपनियां रसोई गैस सिलेंडर के नए दाम जारी करती हैं। कई बार तो महीने में 2 बार भी बदलाव देखे जाते हैं।

फिलहाल 14.2 केजी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत दिल्ली में 809 रुपए है। 14.2 केजी वाले सिलेंडर के अलावा 19 केजी वाले सिलेंडर के भी दाम में बदलाव संभव है।

हालांकि जरूरी नहीं कि 1 जून को ही नई कीमतें जारी हों। कई बार रेट समान ही रह जाते हैं।

1 से 6 जून तक इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का ई-फाइलिंग पोर्टल काम नहीं करेगा। वहीं 7 जून को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट टैक्सपेयर्स के लिए इनकम टैक्स ई-फाइलिंग का नया पोर्टल लॉन्च करेगा।

आयकर निदेशालय के अनुसार आईटीआर भरने की आधिकारिक वेबसाइट 7 जून 2021 से बदल जाएगी।

ईपीएफओ ने निर्देश दिए हैं कि एक जून के बाद से अगर कोई खाता आधार से लिंक नहीं है या फिर यूएनएस आधार वेरिफाइड नहीं है तो उसका इलेक्ट्रोनिक चालान कम रिटर्न नहीं भरा जा सकेगा।

ऐसे में पीएफ खाताधारकों को भी नियोक्ता की तरफ से मिलने वाला हिस्सा रोका जा सकता है, इसलिए समय रहते आप अपना पीएफ खाता को आधार से लिंक करा लें।

पीपीएफ, एनएससी, केवीपी और सुकन्या समृद्धि जैसी स्माल सेविंग स्कीम्स की ब्याज दरों में भी बदलाव इसी महीने होना है।

सरकार की ओर से हर तीन महीने पर स्‍माल सेविंग्‍स स्‍कीम्‍स की नई ब्‍याज दरें लागू की जाती हैं।

गूगल फोटोज में 1 जून के बाद से अनलिमिटेड फोटोज अपलोड नहीं कर सकेंगे। गूगल के मुताबिक, 15जीबी का स्पेस हर जीमेल यूजर्स को दिया जाएगा। इस स्पेस में ईमेल और फोटोज शामिल हैं।

इसके अलावा गूगल ड्राइव भी शामिल है। अगर 15जीबी से ज्यादा स्पेस यूज करना है तो इसके लिए पैसे देने होंगे। अभी तक अनलिमिटेड स्टोरेज फ्री था।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button