बीजू जनता दल ने मोदी से तोड़ा नाता, सदन में देगी विपक्ष का साथ

Digital Desk

BJD with INDIA : लोकसभा और विधानसभा चुनाव में बुरी तरह पराजित होने के बाद बीजू जनता दल (BJD) सुप्रीमो और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (Naveen Patnayak) ने प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) और NDA गठबंधन से अपना नाता तोड़ लिया है।

सदन में उनकी पार्टी विपक्ष (Opposition) के साथ रहेगी। BJD नेता सस्मित पात्रा ने कहा कि नवीन पटनायक ने साफ निर्देश दिया है कि राज्य के लोगों के हित में लड़ाई लड़ी जाए।

BJP को अब समर्थन नहीं मिलेगा। केवल विपक्ष का साथ दिया जाएगा।

10 साल तक पार्टी ने दिया मोदी का साथ

बता दें कि PM मोदी के पिछले दो कार्यकाल में BJD संसद में BJP के साथ खड़ी रहती थी।

राज्यसभा में भी अगर किसी विधेयक को पास करने के लिए संख्याबल की कमी होती थी तो BJD NDA का साथ देती थी।

भुवनेश्वर में सोमवार को नवीन पटनायक ने अपने 9 राज्यसभा सांसदों के साथ बैठक की। इसके बाद पार्टी की तरफ से जारी बयान में कहा गया, राज्य के विकास के लिए सभी मामले बीजेडी केंद्र सरकार के सामने रखेगी।

अब तक बहुत सारी मांगें पूरी नहीं हो पाई हैं। हम लोग संसद में 4.5 करोड़ ओडिशा के लोगों की आवाज बनेंगे।

अभी विधानसभा में पार्टी की स्थिति

बता दें कि ओडिशा विधानसभा चुनाव (Odisha Assembly Election) में इस बार BJD 147 में से केवल 51 सीटें ही जीत पाई।

उससे पहले BJD के खाते में 112 सीटें आई थीं। वहीं 78 सीटों के साथ BJP ने ओडिशा में अपनी सरकार बना ली है।

पहली बार ऐसा हुआ है  जब नवीन पटनायक के नेतृत्व में ओडिशा में बीजेडी की सरकार नहीं बन पाई। 2019 में बीजेडी के 12 लोकसभा सांसद थे। अब उसके पास राज्यसभा में केवल 9 सांसद हैं।

वहीं 2026 में यह संख्या आधी हो जाएगी।

हमें Follow करें!