भारत

अब जाकर माने केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, बोले- NTA में सुधार की जरूरत

छात्रों के साथ कुछ भी गलत नहीं होने दिया जाएगा। Supreme Court की अनुशंसा पर 1,563 अभ्यर्थियों की दोबारा परीक्षा का आदेश दिया गया है।

Dharmendra Pradhan on NTA : NEET UG की परीक्षा को लेकर पूरे देश में हंगामा मचा हुआ है। इस बीच केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने एक न्यूज एजेंसी से बातचीत में माना कि NTA में सुधार की जरूरत है।

उन्होंने कहा, छात्रों के साथ कुछ भी गलत नहीं होने दिया जाएगा। Supreme Court की अनुशंसा पर 1,563 अभ्यर्थियों की दोबारा परीक्षा का आदेश दिया गया है।

दो जगहों पर कुछ अनियमितताएं सामने आई हैं। मैं छात्रों और अभिभावकों को आश्वस्त करता हूं कि सरकार ने इसे गंभीरता से लिया है।

बड़े अधिकारी को भी बख्शा नहीं जाएगा

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, अगर NTA के बड़े अधिकारी भी दोषी पाए गए तो उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। NTA में बहुत सुधार की जरूरत है।

सरकार इस बात को लेकर चिंतित है, किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा, उन्हें सख्त से सख्त सजा मिलेगी।

NEET के संबंध में 2 प्रकार की अव्यवस्था का विषय सामने आया है। प्रारंभिक जानकारी थी कि कुछ छात्रों को कम समय मिलने के कारण उनको ग्रेस नंबर दिए गए।

दूसरा 2 जगहों पर कुछ गड़बड़ियां सामने आई हैं। मैं छात्रो और अभिभावकों को आश्वस्त करता हूं कि इसे भी सरकार ने गंभीरता के साथ लिया है।

जानकारी हमें मिली है, हम सारे विषयों को एक निर्णायक स्थिति तक ले जाएंगे।

x