लोस चुनाव के दौरान सहायक आचार्य परीक्षा का पारा शिक्षकों ने किया विरोध, कहा…

Digital Desk

Assistant Professor Exam : लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के दौरान Jharkhand में सहायक आचार्य (प्राथमिक शिक्षक) नियुक्ति परीक्षा कराने को लेकर सहायक अध्यापकों (पारा शिक्षकों) ने विरोध जताया है।

इस विषय को लेकर AJSU के केंद्रीय संगठन सचिव S. अली ने भी कहा है कि चुनाव प्रक्रिया के दौरान परीक्षा की तिथि (Exam Date) घोषित करना आदर्श चुनाव आचार संहिता (Model Code of Conduct) का उल्लंघन है। लोकसभा चुनाव के बाद परीक्षा होनी चाहिए।

TET सफल सहायक अध्यापक संघ के प्रदेश संरक्षक प्रमोद कुमार ने कहा है कि चुनाव आचार संहिता के दौरान शिक्षकों की सभी प्रकार की छुट्टी रद्द है।

चुनाव को लेकर शिक्षकों का प्रशिक्षण चल रहा है, शिक्षक BLO कार्य में भी प्रतिनियुक्त हैं।

ऐसे में चुनाव के दौरान परीक्षा लेने से सहायक अध्यापकों को परेशानी होगी। वे ठीक से परीक्षा की तैयारी भी नहीं कर सकेंगे। इसके अलावा बड़ी संख्या में शिक्षक परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे।

CEO से मिला प्रतिनिधिमंडल

इस संबंध में संघ का प्रतिनिधिमंडल राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी K. रवि कुमार से मिला।

प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को बताया कि 27 अप्रैल को परीक्षा प्रस्तावित हैं, 26 अप्रैल को ही विभिन्न जिलों में चुनाव को लेकर प्रशिक्षण भी हैं।

प्रशिक्षण कार्य शाम पांच बजे तक हैं। ऐसे में शिक्षक परीक्षा में शामिल होने से वंचित हो जाएंगे। दूसरे जिलों में जाकर परीक्षा देनी है।

शिक्षकों के लिए 50 फीसदी पद आरक्षित

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग (JSSC) ने 26 हजार सहायक आचार्य नियुक्ति परीक्षा की तिथि घोषित की है। सहायक आचार्य नियुक्ति में पारा शिक्षक के लिए 50 फीसदी पद रिजर्व हैं।

हमें Follow करें!

x