झारखंड

हाजत में फांसी लगाकर युवक ने दे दी जान, रामगढ़ SP ने की पुष्टि, कोका चोरी में…

रामगढ़ (Ramgarh) थाने के हाजत में गुरुवार को एक युवक ने फांसी लगा ली। इस मामले की पुष्टि करते हुए रामगढ़ SP Piyush Pandey ने बताया कि मृतक अनिकेत उर्फ कोका चोरी की एक मामले में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था।

Ramgarh Suicide News: रामगढ़ (Ramgarh) थाने के हाजत में गुरुवार को एक युवक ने फांसी लगा ली। इस मामले की पुष्टि करते हुए रामगढ़ SP Piyush Pandey ने बताया कि मृतक अनिकेत उर्फ कोका चोरी की एक मामले में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था।

बुधवार की देर रात तक उससे पूछताछ नहीं हो पाई थी। इसी बीच उसने हाजत में पुलिस द्वारा दिए गए कंबल को फाड़कर हाजत के शौचालय में आत्महत्या कर ली।

पुलिस ने जब देखा कि अनिकेत 10 मिनट के बाद भी शौचालय से बाहर नहीं निकाला और आवाज देने के बाद भी उसने कोई रिस्पांस नहीं किया तो तत्काल टीम अंदर घुसी। पुलिस ने उसे फंदे से लटका देखा तो उसे इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत्यु घोषित कर दिया।

उन्होंने कहा कि यह खुदकुशी का मामला है। मिलोनी क्लब निवासी महेंद्र राम के पुत्र अनिकेत कुमार उर्फ कोका (19 वर्ष) को पूछताछ के लिए बुधवार की रात थाने लाया गया था। देर रात हो जाने की वजह से उससे ज्यादा पूछताछ नहीं हो पाई और उसे हाजत में रखा गया।

पुलिस के अनुसार रामगढ़ में चोरी की कई वारदातें हुई थीं। जिसमें रामगढ़ Chamber of Commerce and Industries भवन की वारदात शामिल है।

इसी मामले की पूछताछ के लिए अनिकेत को थाने लाया गया था। अनिकेत का एक साथी विकास नगर निवासी धुकरी महतो पिता डेगा महतो को चोरी के आरोप में ही आरपीएफ पुलिस ने जेल भेजा था। पुलिस के अनुसार अनिकेत चोरी के मामले में पहले भी जेल गया था। कांड संख्या 308/22 में उसके खिलाफ चार्जशीट भी दायर हो चुकी थी।

परिजनों ने पुलिस पर लगाया मारपीट कर हत्या करने का आरोप

अनिकेत की मौत को लेकर परिजनों ने जमकर बवाल काटा। सबसे पहले परिजन गुरुवार की सुबह जब रामगढ़ थाना पहुंचे तो उन्हें यह बताया गया कि उसका इलाज अस्पताल में चल रहा है। यह सुनकर परिजन आपा खो बैठे और उन्होंने पुलिस पर मारपीट कर हत्या करने का आरोप लगाया।

जब परिजन अस्पताल पहुंचे तो वहां भी अनिकेत से वे मिल नहीं पाए। इसके बाद उन्हें पता चला कि अनिकेत की लाश Post Mortem House में पड़ी हुई है। इतना सुनने के बाद परिजनों के होश उड़ गए।

अनिकेत के पिता महेंद्र राम और माता रीना देवी व उनके साथ जुटे हुए दर्जनों लोगों ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए। काफी मशक्कत के बाद देर शाम अनिकेत के शव का पोस्टमार्टम हो सका। कोका के पिता महेंद्र राम और मां रीना देवी ने कहा कि चोरी की मामले में पुलिस जांच कर रही थी।

इसी सिलसिले में पूछताछ के लिए अनिकेत और विकास नगर निवासी सद्दाम हुसैन को पुलिस थाने ले गई थी। बुधवार की रात हाजत में ही उन लोगों को रखा गया था।

रामगढ़ थाने के हाजत से फोरेंसिक टीम ने कलेक्ट किया सैंपल

संदिग्ध मौत की जांच में रांची से Forensic Department की टीम रामगढ़ थाने पहुंची। उन्होंने सारे सैंपल कलेक्ट किए। अनिकेत को थाने के जिस हाजत में रखा गया था, वहां से फिंगरप्रिंट भी कलेक्ट किए गए हैं। इस पूरे मामले की जांच राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की टीम भी कर रही है।

SP ने बताया कि हाजत में युवक के द्वारा खुदकुशी किए जाने के बाद एनएचआरसी के पूरे नियम का अनुपालन किया गया। शव को Post Mortem के लिए जब भेजा गया तो वहां Videography के साथ-साथ दंडाधिकारी की नियुक्ति भी हुई।

इसके अलावा पांच सदस्य मेडिकल टीम ने युवक का पोस्टमार्टम किया है। किसी भी स्तर पर कोई गुंजाइश न रहे इसके लिए पूरी जांच टीम निष्पक्ष रूप से अपना काम कर रही है।

यहां तक की मानवाधिकार आयोग (Human rights commission) की टीम भी इस पूरे मामले की जांच करेगी। SP ने बताया कि पुलिस पदाधिकारी की फिलहाल कोई संलिप्तता परिलक्षित नहीं हुई है। जांच के बाद सारी चीजें स्पष्ट हो जाएगी।

x