ऑस्कर की दौड़ से बाहर हुई जल्लीकट्टू

लॉस एंजेलिस: समीक्षकों द्वारा भी सराही गई मलयालम फिल्म जल्लीकट्टू ऑस्कर की दौड़ से बाहर हो गई है। उसे इस साल सर्वश्रेष्ठ अंतर्राष्ट्रीय फीचर फिल्म श्रेणी में भारत की ओर से आधिकारिक तौर पर शामिल किया गया था।

बुधवार को एकेडमी ऑफ मोशन पिक्च र आर्ट्स एंड साइंसेज ने 9 श्रेणियों में शॉर्टलिस्ट की गई फिल्मों के नामों की घोषणा की।

ये कैटेगरी – डॉक्यूमेंट्री फीचर, डॉक्यूमेंट्री शॉर्ट सब्जेक्ट, इंटरनेशनल फीचर फिल्म, मेकअप एंड हेयरस्टाइलिंग, म्यूजिक (ओरिजनल स्कोर), म्यूजिक (ओरिजनल सॉन्ग), एनिमेटेड शॉर्ट फिल्म, लाइव एक्शन शॉर्ट फिल्म और विजुअल इफेक्ट्स हैं।

लिजो जोस पेलिसरी की मलयालम भाषा में बनी फिल्म जल्लीकट्टू शॉर्टलिस्ट हुई फिल्मों में शामिल नहीं है। इंटरनेशनल फीचर फिल्म कैटेगरी में 15 फिल्में वोटिंग के अगले दौर में पहुंची हैं। इस कैटेगरी के लिए 93 देशों की फिल्में पात्र थीं।

2019 की एक्शन ड्रामा जल्लीकट्टू हरीश की माओवादी नाम की एक शॉर्ट स्टोरी पर आधारित है। इस फिल्म में एंटॉनी वर्गीस, चेम्बन विनोद जोस, साबुमन अब्दुस्समद और संथी बालाचंद्रन हैं।

यह कहानी एक भैंस के इर्द-गिर्द घूमती है, जो केरल के एक सुदूर पहाड़ी कस्बे में बने बूचड़खाने से भाग जाती है और एक महामारी फैला देती है।

बता दें कि ऑस्कर पुरस्कारों के लिए अंतिम नामांकनों की घोषणा 15 मार्च को की जाएगी। इस साल प्राइज सेरेमनी 25 अप्रैल को आयोजित की जाएगी।

Back to top button