हजारीबाग में एक ही परिवार के तीन लोगों पर बरपा क़हर, करंट से मौत

हजारीबाग: लोहसिघना थाना क्षेत्र के ओकनी मुहल्ला में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत का मामला प्रकाश में आया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार पति-पत्नी और उनके छह साल की बच्ची की मौत करंट लगने हो गई। हालांकि मामले को लेकर परिजन हत्या की आशंका जता रहे हैं।

बताया जा रहा है कि ओकनी मुहल्ला में बुधवार की देर रात घर में एक ही परिवार के तीन सदस्य करंट लगने झुलस गए और उनकी मौत हो गई।

मृतकों में पति मुन्ना विश्वकर्मा (45), पत्नी सोनम विश्वकर्मा (40) और उनका छह वर्षीय पुत्र आयुष विश्वकर्मा शामिल है। जबकि दूसरे कमरे में सो रही मृतक की दो पुत्रियां भूमि (12) और कनक (10) बाल बाल बच गयीं।

बताया जा रहा है कि मुन्ना विश्वकर्मा अपने परिवार व बच्चों के साथ शादी समारोह से देर रात घर लौटा था।

इसके बाद मुन्ना विश्वकर्मा अपनी पत्नी व बच्चों के साथ अपने कमरे में सोने चला गया,जबकि उसकी दो बेटियां भूमि और कनक बगल के रूम में सोने चली गयी।

बताया जा रहा है कि रात्रि ढाई बजे के करीब मुन्ना विश्वकर्मा की बेटी को पिता के कमरे से जलने की बदबू व कमरे से धुआं निकलता दिखाई दिया।

बच्चियों ने चिल्लाने पर जब घर के लोग मौके पर पहुंचे तो बाहर दरवाजे पर एक तार बंधा देखा और पति पत्नी व उनका छह वर्षीय पुत्र की करंट से लगी आग से जलकर मौत हो गयी थी।

घटना के बाद परिवार में मातम का माहौल है।परिजनों का कहना है कि रात तक सब कुछ ठीक था तो फिर कमरे के अंदर बिजली करंट कैसे प्रवाहित हुई।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button